Drug Inspector Kaise Bane? Drug Inspector ke Liye Qualification, Eligibility, Salary per Month

मेडिकल के क्षेत्र में ड्रग इंस्पेक्टर या औषधि अधीक्षक का पोस्ट होता है, जिनका काम दवाइयों या औषधियों का जाँच करना होता है. सरकारी एवं प्राइवेट दवाखाना, दवाई या औषधि निर्माण उद्योग आदि की जाँच करता है. अब आपके मन में सवाल होगा ड्रग इंस्पेक्टर कैसे बनते हैं? तो आज आप जानेंगे कि Drug Inspector Kaise Bane? ड्रग इंस्पेक्टर की सैलरी कितनी होती है? Drug Inspector ke Liye Qualification, Eligibility

Drug Inspector Kya Hota Hai?

ड्रग इंस्पेक्टर मेडिकल क्षेत्र का ऑफिसर होता है, जो दवाइयों या औषधि की जाँच करता है. ड्रग इंस्पेक्टर को हिंदी में ‘औषधि अधीक्षक’ के नाम से जाना जाता है. ड्रग इंस्पेक्टर का काम सरकारी एवं प्राइवेट अस्पतालों में दवाइयों की जाँच करना, दवाई या औषधि मैन्युफैक्चरिंग उद्योग और दवाई की होलसले व रिटेलर दुकान की जाँच करना. दवाई दुकान या मेडिकल की लाइसेंस जाँच करना आदि.

Drug इंस्पेक्टर बनने के लिए क्या करें?

औषधि अधीक्षक या ड्रग इंस्पेक्टर बनने के लिए सबसे पहले साइंस स्ट्रीम में बारहवीं कक्षा (10+2) उत्तीर्ण करें. उसके बाद किसी मान्यता प्राप्त संस्थान से बैचलर ऑफ़ फार्मेसी (B. Pharma) डिग्री कोर्स करें. फार्मेसी में बैचलर डिग्री उत्तीर्ण करने के बाद ड्रग इंस्पेक्टर के लिए अप्लाई करना होगा. राज्य लोक सेवा आयोग ( State PSC) और संघ लोक सेवा आयोग (UPSC) ड्रग इंस्पेक्टर की भर्ती हेतु समय-समय पर notification जारी करती है. जब Drug inspector ki Vacancy निकलती है, उस समय अप्लाई करना होगा. आवेदन करने के बाद ड्रग इंस्पेक्टर से सम्बंधित लिखित परीक्षा उत्तीर्ण करना होगा.

Drug Inspector ke Liye Qualification

  • उम्मीदवार किसी मान्यता प्राप्त बोर्ड से science strim में बारहवीं कक्षा (10+2) उत्तीर्ण होना चाहिए.
  • और किसी मान्यता प्राप्त संस्थान/ यूनिवर्सिटी से फार्मेसी में बैचलर डिग्री (Bachelor of Pharmacy) उत्तीर्ण होना चाहिए.
  • ड्रग इंस्पेक्टर बनने के लिए बैचलर ऑफ़ फार्मेसी यानि बीफार्म (B. Pharma) डिग्री अनिवार्य होता है.

Drug Inspector ke Liye Eligibility

  • अभ्यर्थी किसी मान्यता प्राप्त संस्थान से Pharmacy में बैचलर डिग्री यानि बीफार्मा उत्तीर्ण होना चाहिए.
  • उम्मीदवार के पास B. Pharma उत्तीर्ण सर्टिफिकेट होना चाहिए.
  • आवेदक की न्यूनतम उम्र 21 वर्ष तथा अधिकतम उम्र 30 वर्ष होनी चाहिए.
  • Reserve Category (SC/ST/ OBC) कैंडिडेट को अधिकतम उम्र-सीमा में 3-5 वर्ष का छुट दिया जाता है.

ड्रग इंस्पेक्टर कैसे बनते हैं?

राज्य लोक सेवा आयोग (state PSC) या संघ लोक सेवा आयोग (UPSC) के माध्यम से ड्रग इंस्पेक्टर बन सकते हैं. यूपीएससी और स्टेट पीएससी ड्रग इंस्पेक्टर की भर्ती करती है. आप इन दोनों में किसी एक माध्यम से ड्रग इंस्पेक्टर बन सकते हैं.

  • इसके लिए सबसे पहले किसी मान्यता प्राप्त बोर्ड से साइंस स्ट्रीम में 12वीं कक्षा उत्तीर्ण करना होना.
  • उसके बाद किसी मान्यता प्राप्त यूनिवर्सिटी/ संस्थान से फार्मेसी में बैचलर डिग्री (Bachelor of Pharmacy) कोर्स करना होगा.
  • बैचलर ऑफ़ फार्मेसी या बीफार्म डिग्री प्राप्त करने के बाद जब राज्य लोक सेवा आयोग ड्रग इंस्पेक्टर भर्ती के लिए एप्लीकेशन सूचना जारी करती है, उस समय आवेदन करना होगा.
  • या जब यूपीएससी ड्रग इंस्पेक्टर की भर्ती सूचना जारी करती है, उस समय आवेदन कर सकते हैं.

Drug Inspector Kaise Bane?

  • ड्रग इंस्पेक्टर बनने के लिए सबसे पहले किसी मान्यता प्राप्त बोर्ड से साइंस स्ट्रीम में बारहवीं कक्षा (10+2) उत्तीर्ण करें.
  • साइंस स्ट्रीम में 12वीं कक्षा पास करने के बाद B. Pharma ( बैचलर ऑफ़ फार्मेसी) कोर्स करें.
  • Bachelor of Pharmacy कोर्स करने के बाद ड्रग इंस्पेक्टर के लिए आवेदन करें.
  • समय-समय पर राज्य लोक सेवा आयोग (State PSC) और संघ लोक सेवा आयोग (UPSC) ड्रग इंस्पेक्टर की रिक्ति पदों की भर्ती हेतु job notification जारी करती है.
  • जब राज्य लोक सेवा आयोग (SPSC) Drug Inspector Recruitment के लिए एप्लीकेशन फॉर्म निकालती है, उस समय अप्लाई करें.
  • या जब यूपीएससी ड्रग इंस्पेक्टर की भर्ती के लिए एप्लीकेशन फॉर्म जारी करती है, उस समय अप्लाई करें.
  • SPSC या UPSC दो तरीके से ड्रग इंस्पेक्टर बन सकते हैं. आप राज्य या केंद्र स्तर पर ड्रग इंस्पेक्टर की जॉब पा सकते हैं.
  • state PSC/ UPSC ड्रग इंस्पेक्टर भर्ती के लिए आवेदन सूचना निकालती है, उस समय आवेदन करें और लिखित परीक्षा की तैयारी करें.
  • क्योंकि ड्रग इंस्पेक्टर की भर्ती written test, डॉक्यूमेंट वेरिफिकेशन और पर्सनालिटी टेस्ट के माध्यम से होती है.
  • लिखित परीक्षा उतीर्ण करने के बाद डॉक्यूमेंट वेरिफिकेशन/ पर्सनालिटी टेस्ट या इंटरव्यू होता है.
  • केवल रिटेन टेस्ट उत्तीर्ण करने वाले उम्मीदवारों को डॉक्यूमेंट वेरिफिकेशन व इंटरव्यू के लिए बुलाया जाता है.
  • डॉक्यूमेंट वेरिफिकेशन एवं पर्सनालिटी टेस्ट उत्तीर्ण करने वाले उम्मीदवारों का सिलेक्शन होता है.
  • चयनित उम्मीदवारों की नियुक्ति ड्रग इंस्पेक्टर या औषधि अधीक्षक पोस्ट पर होती है.

Drug Inspector ki Salary Kitni Hoti Hai?

ड्रग इंस्पेक्टर की सैलरी 44900 रूपये-1,42,000 रूपये प्रतिमाह तक होती है. सभी राज्यों में ड्रग इंस्पेक्टर की सैलरी अलग-अलग होता है. ड्रग इंस्पेक्टर की शुरूआती सैलरी 40 हजार से 45 हजार रूपये प्रतिमाह होती है. एक ड्रग इंस्पेक्टर को वेतन के अलावे कई प्रकार की भत्ते मिलती है, जैसे- महंगाई भत्ता, आवास भत्ता, यात्रा भत्ता आदि.

Drug Inspector Exam Pattern in Hindi

ड्रग इंस्पेक्टर का लिखित परीक्षा (Written Exam) दो पेपर में होता है. पेपर I Pharmacy का होता है, जिसमें फार्मेसी से सम्बंधित 200 प्रश्न होता है. सभी प्रश्न बहुविकल्पीय (multiple choice question) होते हैं. परीक्षा का समय 2 घंटा निर्धारित होता है.

पेपर II सामान्य अध्ययन (General studies) का होता है. जिसमें current affairs, रीजनिंग, सामान्य ज्ञान, मैथमेटिक्स सब्जेक्ट का प्रश्न होता है. इसमें कुल 50 प्रश्न होता है, परीक्षा का समय 1 घंटा निर्धारित होता है.

इसे भी पढ़ें- Income Tax Inspector Kaise Bane?

Leave a Comment