Career

SDM Kya Hota Hai? SDM Kaise Bane? SDM Banne ke Liye Qualification: SDM Banne ke Liye Yogyata: एसडीएम कैसे बनते हैं?

SDM Kaise Bane
Written by Naukriejob.com

नमस्कार दोस्तों! आज मैं आपको SDM Kaise Bane? के बारे में बताने जा रही हूँ. आज के समय अधिकतर युवाओं का सपना प्रशासनिक अधिकारी बनने का होता है. कोई व्यक्ति बीडीओ, सीओ, डीसी या कलेक्टर बनना चाहते हैं, तो कोई एसडीएम (SDM Officer) बनने का लक्ष्य रखते है.

एसडीएम प्रशासनिक अधिकारी का पद होता है. प्रशासनिक सेवा अधिकारी का पद बहुत इज्जत और सम्मानजनक होता है. एसडीएम को सम्मान के साथ ही अच्छा खासा वेतन मिलता है और अन्य सरकारी सुविधाएँ भी मिलती है. इस कारण आज के समय में अधिकांश लोगों का सपना एसडीएम बनने का होता है.

लेकिन SDM Officer बनना इतना आसान नहीं है.वर्त्तमान समय में प्रतियोगिता बहुत बढ़ गयी है. जहाँ 500 रिक्त पदों की भर्ती के लिए आवेदन निकलती है. उस पद के लिए लाखों अभ्यर्थी आवेदन करते हैं. ऐसे में नौकरी मिलना ओर भी मुश्किल हो जाता है. इस कारण आधे- से ज्यादा लोगों को नौकरी नहीं मिल पाती है, और वह बेरोजगार रहते है. इसकी परीक्षा बहुत कठिन होती है. फिर भी अगर आप मेहनत और लग्न के साथ पढाई करेंगे, तो आपको सफलता अवश्य मिलेगी.

आज के समय में जितना अच्छा नौकरी पाना चाहते हैं, आपको उतनी अधिक पढाई और मेहनत करनी होगी. अगर आप एसडीएम बनना चाहते हैं, तो आपको पता होना चाहिए कि SDM Kaise Bante Hai? SDM Banne ke Liye Kya Kare? SDM  ke Liye Qualification और SDM Banne ke Liye Yogyata क्या होनी चाहिए.

तो आज मैं आपसे इसी के बारे में बात करने जा रही हूँ कि SDM Kaise Bane? SDM Banne ke Liye Yogyata Kya Honi Chahiye?  अगर आप भी सोच रहे हैं कि SDM Banne ke Liye Kya Kare? तो आप यह आर्टिकल SDM Kaise Bane in Hindi अंत तक जरुर पढ़िए.

SDM Kya Hota Hai? 

एसडीएम का पूरा नाम (Full Form) Sub Divisional Magistrate होता है. हिंदी में एसडीएम (SDM) को उप-प्रभागीय न्यायाधीश कहा जाता है. एसडीएम जिले का प्रशासनिक सेवा अधिकारी होता है. राज्य के सभी जिले में एक एसडीएम/ उप-प्रभागीय न्यायाधीश होता है.

यह पुरे जिले की देखरेख करता है. जिले की पूरी भूमि/जमीन का लेखा-जोखा रखता है. उसके साथ ही सम्पूर्ण क्षेत्र का विकास करना, नवीनीकरण करना, कई प्रकार का लाइसेंस जारी करना और प्राकृतिक आपदा से पीड़ित व्यक्तियों तक सहायता पहुँचाना एसडीएम का कार्य होता है.  इसके अलावा उप-प्रभागीय न्यायाधीश का उपखंड के सभी तहसीलदारों पर प्रत्यक्ष नियंत्रण होता है.

एसडीएम बनने के लिए योग्यता क्या होनी चाहिए? SDM ke Liye Qualification Kya Hai?

उप-प्रभागीय न्यायाधीश का पद श्रेष्ठ (High Level) होता है. जितना ऊँचा पोस्ट में नौकरी (Job) पाना चाहते हैं. उतनी अधिक पढाई भी करनी पड़ती है. ये सभी SDM Banne ke Liye Yogyata होनी चाहिए.

  • उम्मीदवार किसी मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय से किसी भी संकाय में स्नातक (Graduation) पास होना चाहिए.
  • ग्रेजुएशन में कम से कम 55% अंक होना चाहिए.
  • आरक्षित श्रेणी के उम्मीदवार कम से कम 50% अंकों में स्नातक पास हो.
  • स्नातक के अंतिम वर्ष में अध्ययनरत अभ्यर्थी भी आवेदन कर सकते हैं.
  • उम्मीदवार की न्यूनतम उम्र 21 वर्ष होनी चाहिए.
  • अधिकतम उम्र श्रेणी (Category) के अनुसार अलग-अलग है.
  • General (सामान्य वर्ग) के लिए अधिकतम उम्र 40 वर्ष निर्धारित है.
  • ST/ SC के लिए अधिकतम उम्र 45 वर्ष है.
  • और PWD Category की उम्र 55 वर्ष है.
  • अभ्यर्थी भारत का नागरिक होना चाहिए.

SDM Kaise Bane? एसडीएम कैसे बनते हैं.

अब हम बात करेंगे कि SDM Kaise Bante Hai? एसडीएम बनने के लिए क्या करें.

  •  एसडीएम बनने के लिए सबसे पहले आप ग्रेजुएशन पास करें.
  • उसके बाद एसडीएम पद के लिए होने वाली परीक्षा के लिए आवेदन करें.
  • उप-प्रभागीय न्यायाधीश (SDM) पोस्ट की भर्ती के लिए दो तरह की परीक्षा होती है. दो तरीके से आप एसडीएम बन सकते हैं.
  • एक राज्य लोक सेवा आयोग (State Public Service Commission) द्वारा आयोजित होने वाली सिविल सर्विस एग्जाम (CSE Exam) पास करके.
  • और दूसरा संघ लोक सेवा आयोग (UPSC) द्वारा आयोजित होने वाली Civil Service Exam उत्तीर्ण करके.
  • इन दोनों में से किसी भी परीक्षा के माध्यम से आप SDM बन सकते है.
  • प्रति वर्ष सभी राज्य लोक सेवा आयोग (State PSC) और संघ लोक सेवा आयोग (UPSC) सिविल सेवा परीक्षा के लिए आवेदन निकालती है.
  • आप जिस परीक्षा में शामिल होना चाहते हैं, उसके लिए आवेदन कर सकते हैं.
  • यूपीएससी (Union Public Service Commission) और State PSC  की परीक्षा तीन चरणों में होती है.
  • प्रारंभिक परीक्षा, मुख्य परीक्षा और साक्षात्कार, इन तीनों परीक्षाओं को उत्तीर्ण करना होता है.
  • जो अभ्यर्थी सभी परीक्षाओं में उत्तीर्ण होते हैं. उनका नाम Merit List में होता है.
  • मेरिट लिस्ट में जिन अभ्यर्थियों का नाम होता हैं, उनका चयन Sub Divisional Magistrate पद के लिए होता है.

एसडीएम बनने के लिए कौन-सा एग्जाम देना पड़ता है? SDM Kaise Bante Hai? 

संघ लोक सेवा आयोग (UPSC) और राज्य लोक सेवा आयोग (State PSC) एसडीएम पोस्ट के लिए परीक्षा आयोजित करती है. UPSC  और SPSC की परीक्षा तीन चरणों में होती है.

  • Preliminary Exam (प्रारंभिक परीक्षा)
  • Mains Exam (मुख्य परीक्षा)
  • Interview (साक्षात्कार)

प्रारंभिक परीक्षा और मुख्य परीक्षा लिखित परीक्षा होती है. इन दोनों परीक्षा में उत्तीर्ण अभ्यर्थियों को इंटरव्यू के लिए बुलाया जाता है. इन तीनों चरणों की परीक्षाओं को पास करके आप एसडीएम बन सकते हैं.

प्रारंभिक परीक्षा (Prelims Exam): यह लोक सेवा आयोग परीक्षा की प्रथम चरण की परीक्षा होती है. इसमें कुल दो पेपर होते हैं. दोनों प्रश्न-पत्र सामान्य ज्ञान (General Knowledge) के होते हैं. दोनों पेपर में कुल 200-200 अंकों के प्रश्न पूछे जाते हैं. सभी प्रश्न बहुविकल्पीय होते हैं. सही विकल्प को चुनकर उत्तर देना होता है.

मुख्य परीक्षा (Mains Exam): प्रारंभिक परीक्षा पास करने के बाद Mains Exam होता है. यह परीक्षा बहुत कठिन होती हैं. इसमें कुल 9 पेपर होते हैं. सभी पेपर में वर्णात्मक/व्याख्यात्मक प्रश्न पूछे जाते हैं. प्रश्नों का उत्तर यथासंभव अपने शब्दों में देना होता है. प्रत्येक प्रश्न-पत्र को हल करने के लिए 3 घंटे का समय निर्धारित होता है. सभी पेपर 200-200 अंकों की होती है. इस परीक्षा में Negative Marking का प्रावधान नहीं है.

साक्षात्कार (Interview): प्रारंभिक परीक्षा और मुख्य परीक्षा उत्तीर्ण अभ्यर्थियों के लिए इंटरव्यू होता है. Mains Exam पास करने के बाद इंटरव्यू के लिए बुलाया जाता है. इस परीक्षा में अधिकारी आपसे कुछ प्रश्न पूछते हैं, उसका जवाब ठीक से देना होता है. इंटरव्यू के माध्यम से आपकी ज्ञान और व्यवहार की जाँच होती है.

एसडीएम को वेतन कितना मिलता है? SDM ka Salary Kitna Hai?

उप-प्रभागीय न्यायाधीश (SDM) अधिकारी का न्यूनतम वेतन 53,100 रुपये से 67,700 रुपये है. और अधिकतम वेतन एक लाख से अधिक होता है. एसडीएम अधिकारी को अच्छा खासा वेतन मिलता है. उसके साथ ही अन्य सरकारी सुविधाएँ भी मिलती है. जैसे, रहने के लिए आवास, वाहन आदि.

निष्कर्ष: SDM Kaise Bane? SDM Banne ke Liye Qualification Kya Hona Chahiye?

तो दोस्तों! यही है SDM Kaise Bane in Hindi. हमें आशा है कि आपको यह आर्टिकल SDM Kaise Bane? अच्छा लगा होगा. और अब आपको अच्छे से समझ में आ गया होगा कि SDM Banne ke Liye Yogyata क्या होनी चाहिए?

SDM Kaise Bante Hai? से सम्बंधित अगर आपके मन में किसी भी तरह का कोई भी सवाल हो, तो आप हमें निचे Comment कर जरुर बताएं.

About the author

Naukriejob.com

Leave a Comment