Career

BDS ke Liye Qualification: BDS Course Kaise Kare? बीडीएस की फीस कितनी है?

BDS Course Kaise Kare
Written by Naukriejob.com

डेंटिस्ट यानि दन्त चिकित्सक बनने के लिए बीडीएस कोर्स करना पड़ता है. बीडीएस एक अंडर ग्रेजुएट डिग्री कोर्स है. बारहवीं साइंस में उत्तीर्ण करने के बाद नीट प्रवेश परीक्षा के द्वारा इस कोर्स में दाखिला मिलता है. यह जानने के बाद आपके मन में सवाल होगा कि BDS Course Kaise Kare? तो आज हम आपसे इसी के बारे में बात करेंगे कि BDS ke Liye Qualification क्या होना चाहिए?

किसी एक रोग के स्पेशलिस्ट डॉक्टर बनने के लिए उससे सम्बंधित कोर्स करना होता है. डेंटल चिकित्सक यानि दांतों से सम्बंधित रोगों का इलाज करने वाले डॉक्टरों को बीडीएस कोर्स करना होता है. यह बैचलर डिग्री कोर्स चार वर्ष की अवधि की होती है, पाठ्यक्रम सेमेस्टर में विभाजित होता है. बीडीएस पाठ्यक्रम में बारहवीं के बाद प्रवेश मिलता है.

BDS Kya Hota Hai? 

बीडीएस यानि बैचलर ऑफ़ डेंटल सर्जरी एक अंडर-ग्रेजुएट डिग्री कोर्स है. यह दन्त चिकित्सा से संबधित डिग्री कोर्स है. इस कोर्स की अवधि 4 वर्ष होती है, जिसका पाठ्यक्रम सेमेस्टर में विभाजित होता है. बीडीएस पाठ्यक्रम दांत से सम्बंधित सभी प्रकार के रोगों के बारे में होता है. इसमें दांतों से सम्बंधित रोगों का इलाज के बारे में पढाया जाता है. इस कोर्स को करने के बाद ही आप डेंटिस्ट बनकर डेंटल सेक्टर में काम कर सकते हैं.

BDS ka Full Form kya Hai? 

बीडीएस का फुल फॉर्म Bachelor of Dental Surgery होता है. हिंदी में इसका मतलब ‘दन्त शल्य-चिकित्सा स्नातक’ होता है.

BDS ke Liye Qualification 

  • आप दसवीं कक्षा अच्छे अंकों में उत्तीर्ण हो.
  • और किसी मान्यता प्राप्त बोर्ड से साइंस स्ट्रीम में फिजिक्स, केमिस्ट्री और बायोलॉजी (PCB) विषय में बारहवीं कक्षा उत्तीर्ण हो.
  • बारहवीं में कम से कम 50%  अंक होना चाहिए.
  • बीडीएस एंट्रेंस एग्जाम के लिए 12th कक्षा विज्ञान संकाय में उत्तीर्ण होना चाहिए.

BDS Course ke Liye Eligibilty

  • उम्मीदवार किसी मान्यता प्राप्त बोर्ड से साइंस स्ट्रीम में बारहवीं कक्षा कम से कम 50 प्रतिशत अंकों में उत्तीर्ण होना चाहिए.
  • बारहवीं कक्षा में फिजिक्स, केमिस्ट्री, बायोलॉजी सब्जेक्ट होनी चाहिए.
  • आवेदक की न्यूनतम उम्र 17 वर्ष होनी चाहिए.
  • नीट एग्जाम के लिए ये सभी योग्यताएं अनिवार्य है.

BDS Course Kaise Kare?

  • बीडीएस कोर्स करने के लिए सबसे पहले आपको दसवीं कक्षा अच्छे अंकों में उत्तीर्ण करना होगा.
  • उसके बाद किसी मान्यता प्राप्त बोर्ड/ संस्थान से विज्ञानं संकाय में फिजिक्स, केमिस्ट्री, बायोलॉजी सब्जेक्ट में 12th कक्षा उत्तीर्ण करना होगा.
  • बारहवीं कक्षा में कम से कम 50% अंक प्राप्त करना होगा.
  • हाई स्कूल परीक्षा पास करने के बाद नीट एग्जाम के लिए आवेदन करना होगा.
  • नीट एग्जाम अच्छे रैंक में उत्तीर्ण करना होगा, क्योंकि नीट प्रवेश परीक्षा के द्वारा बीडीएस पाठ्यक्रम में नामांकन मिलता है.
  • प्रवेश-परीक्षा उत्तीर्ण करने के बाद बीडीएस डिग्री कोर्स में नामांकन लेना होगा.
  • कुछ निजी संस्थान Private College में बिना प्रवेश-परीक्षा के बीडीएस पाठ्यक्रम में एडमिशन मिलता है.
  • बैचलर ऑफ़ डेंटल सर्जरी पाठ्यक्रम कुल चार वर्षों की होती है.
  • चार वर्षों तक अच्छे से पढाई करनी होगी और प्रत्येक सेमेस्टर अच्छे अंकों में उत्तीर्ण करना होगा.
  • पढाई पूरी होने के बाद बीडीएस सर्टिफिकेट मिलता है.
  • इस तरह से आप बीडीएस कोर्स करके डेंटिस्ट बन सकते हैं.

BDS Course ki Fees Kitni Hai?

बीडीएस कोर्स की फीस 2 लाख रूपये से 10 लाख रूपये तक होती है. विभिन्न राज्यों के विभिन्न  यूनिवर्सिटी, कॉलेज में बीडीएस पाठ्यक्रम की फीस भिन्न-भिन्न होती है. सरकारी कॉलेज की अपेक्षा निजी संस्थान में फीस अधिक होता है. सरकारी कॉलेज में नामांकन नीट प्रवेश परीक्षा के द्वारा होता है. प्राइवेट कॉलेज सेमेस्टर के आधार पर फीस वसूलती है. बीडीएस कोर्स की फीस क्षेत्र और कॉलेज पर निर्भर करती है.

BDS Course Kitne Saal ka Hota Hai?

बैचलर ऑफ़ डेंटल सर्जरी, बीडीएस कोर्स की अवधि 4 वर्ष होती है. इसका पाठ्यक्रम सेमेस्टर में विभाजित होता है, सेमेस्टर के आधार पर परीक्षा होता है.

बीडीएस कॉलेज कहाँ है? 

  • किंग जॉर्ज मेडिकल यूनिवर्सिटी, लखनऊ
  • मौलाना आजाद इंस्टिट्यूट ऑफ़ डेंटल साइंस, नयी दिल्ली
  • मानसरोवर डेंटल कॉलेज, हॉस्पिटल एंड रिसर्च सेंटर, भोपाल
  • इंस्टिट्यूट ऑफ़ मेडिकल साइंसेज, वाराणसी
  • श्री बांके बिहारी डेंटल कॉलेज एंड रिसर्च सेंटर, उत्तरप्रदेश
  • डॉ. बी.आर अम्बेडकर इंस्टिट्यूट ऑफ़ डेंटल साइंसेज एंड हॉस्पिटल, पटना
  • बुद्धा इंस्टिट्यूट ऑफ़ डेंटल साइंसेज एंड हॉस्पिटल, पटना
  • हजारीबाग कॉलेज ऑफ़ डेंटल साइंसेज एंड हॉस्पिटल
  • अवध डेंटल कॉलेज एंड हॉस्पिटल, जमशेदपुर

बीडीएस कोर्स करने के बाद क्या करें?

बीडीएस कोर्स करने के बाद आप किसी प्राइवेट हॉस्पिटल में डेंटिस्ट या किसी स्पेशलिस्ट डेंटिस्ट के सहायक की नौकरी के प्राप्त कर सकते हैं. और जब सरकारी डॉक्टर की भर्ती निकलती है, तब डेंटिस्ट के लिए आवेदन करके सरकारी हॉस्पिटल में डेंटिस्ट बन सकते हैं. या काम का अनुभव होने के बाद आप अपना खुद का डेंटल क्लिनिक खोलकर अपना बिज़नेस कर सकते हैं.

BDS Course Karne ke Phayde

  • बैचलर ऑफ़ डेंटल सर्जरी कोर्स करने के बाद डेंटिस्ट का लाइसेंस मिलता है.
  • इस कोर्स को करने के बाद आप अपना खुद का डेंटल क्लिनिक खोलकर अच्छा खासा पैसा कमा सकते हैं.
  • आप किसी हॉस्पिटल में डेंटल सर्जन, डेंटल असिस्टेंट, Oral Pathology की नौकरी प्राप्त कर सकते हैं.
  • इंडियन आर्मी,  इंटरनेशनल वार फेयर ऑर्गनाइजेशन, फॉरेंसिक डिपार्टमेंट  जैसी संस्थाओं में डेंटिस्ट की नौकरी प्राप्त कर सकते हैं.

About the author

Naukriejob.com

Leave a Comment