DDC Officer Kaise Bane? डीडीसी (उप विकास आयुक्त) बनने के लिए क्या करे? DDC Officer ke Liye Qualification

उप विकास आयुक्त (डीडीसी) भारतीय प्रशासनिक सेवा (IAS) रैंक का उच्च अधिकारी होता है. आईएएस रैंक का डीडीसी अधिकारी जिला विकास कार्यों हेतु उत्तरदायी होता है. डीडीसी जिला विकास योजनाओं का निर्माण व विकास गतिविधियों की निगरानी करता है. तो आज आप जानेंगे कि DDC Officer Kaise Bane? उप विकास आयुक्त (DDC) बनने के लिए क्या करें? DDC Officer Banne ke Liye Qualification क्या होना चाहिए?

DDC ka Full Form Kya Hota Hai?

DDC का फुल फॉर्म Deputy Development Commissioner होता है. हिंदी में डीडीसी को ‘उप विकास आयुक्त‘ के नाम से जाना जाता है.

DDC Officer Kya Hota Hai?

डीडीसी ऑफिसर या उप विकास आयुक्त, भारतीय प्रशासनिक सेवा (IAS) रैंक का उच्च अधिकारी होता है. आईएएस रैंक के अधिकारी पदोन्नति के द्वारा डीडीसी बनते हैं. डीडीसी जिला स्तर की विकास कार्यों को कार्यान्वित करता है. स्वास्थ्य, कल्याण, वित्त, शिक्षा एवं ग्रामीण विकास कार्यों कार्यान्वयन आदि अन्य जिला विकास कार्यों का कार्यान्वयन, डीडीसी के कार्य में शामिल होता है.

DDC Officer Kaise Bante Hai?

यूपीएससी सिविल सर्विस एग्जाम (UPSC CSE) के माध्यम से डीडीसी ऑफिसर बनते हैं. सिविल सेवा परीक्षा के आईएएस रैंक (IAS) के अधिकारी, पदोन्नति के द्वारा उप विकास आयुक्त या डीडीसी ऑफिसर बनते हैं. डीडीसी, भारतीय प्रशासनिक सेवा का उच्च अधिकारी होता है.

डीडीसी, DDC Officer बनने के लिए क्या करें?

डीडीसी या उप विकास आयुक्त बनने के लिए सबसे पहले आप किसी मान्यता प्राप्त यूनिवर्सिटी से किसी भी स्ट्रीम में स्नातक डिग्री (Graduation Degree) उत्तीर्ण करें. बैचलर डिग्री उत्तीर्ण करने के बाद UPSC Civil Service Exam के लिए एप्लीकेशन करें और सिविल सेवा परीक्षा अच्छे रैंक में उत्तीर्ण करें. सिविल सर्विस एग्जाम में आईएएस रैंक प्राप्त करना होगा.

संघ लोक सेवा आयोग (UPSC) प्रतिवर्ष सिविल सेवा परीक्षा आयोजित करती है. परीक्षा हेतु आवेदन सूचना, दिसम्बर, जनवरी माह में निकलती है.  जब UPSC CSE एप्लीकेशन सूचना निकलता है, उस समय यूपीएससी की अधिकारिक साइट पर ऑनलाइन एप्लीकेशन करना होगा और सिविल सर्विस एग्जाम क्लियर करना होगा.

यूपीएससी, सिविल सर्विस एग्जाम तीन चरणों में आयोजित करती है, प्रारंभिक परीक्षा, मुख्य परीक्षा और इंटरव्यू. तीनों चरणों की परीक्षा उत्तीर्ण करना होता है. मुख्य परीक्षा और इंटरव्यू के अंकों के आधार पर मेरिट बनता है. मेरिट के आधार पर रैंक बनता है. डीडीसी बनने के लिए IAS रैंक आनी चाहिए. क्योंकि भारतीय प्रशासनिक सेवा (आईएएस) अधिकारी को ही पदोन्नति के द्वारा डीडीसी का पद मिलता है.

DDC Officer ke Liye Qualification

  • उम्मीदवार किसी मान्यता प्राप्त यूनिवर्सिटी से किसी भी स्ट्रीम में स्नातक डिग्री (Graduation Degree) उत्तीर्ण चाहिए.
  • या मान्यता प्राप्त संस्थान से B.Tech, MBBS आदि Bachelor Degree उत्तीर्ण होना चाहिए.

DDC Officer ke Liye Eligibility, Yogyata

  • आवेदक भारत देश का नागरिक हो.
  • आवेदक मान्यता प्राप्त संस्थान से किसी भी स्ट्रीम में ग्रेजुएशन/बैचलर डिग्री उत्तीर्ण होना चाहिए.
  • अभ्यर्थी का न्यूनतम उम्र 21 वर्ष तथा अधिकतम उम्र 32 वर्ष होना चाहिए.
  • अधिकतम उम्र-सीमा में OBC वर्ग के अभ्यर्थियों के लिए 3 वर्ष का छुट होता है.
  • SC/ ST उम्मीदवारों के लिए 5 वर्ष का छुट होता है.

DDC Officer (डीडीसी) Kaise Bane?

  • डीडीसी (उप विकास आयुक्त) बनने के लिए सबसे पहले मान्यता प्राप्त यूनिवर्सिटी से स्नातक डिग्री (Graduation)  उत्तीर्ण करें.
  • उसके बाद UPSC Civil Service Exam के लिए आवेदन करें.
  • यूपीएससी यानि संघ लोक सेवा आयोग प्रति वर्ष सिविल सर्विस एग्जाम आयोजित करती है.
  • संघ लोक सेवा आयोग जब UPSC CSE के लिए Application notification जारी करती है, उस समय ऑनलाइन एप्लीकेशन करें.
  • ऑनलाइन एप्लीकेशन यूपीएससी की अधिकारिक वेबसाइट upsc.gov.in पर करना होगा.
  • आवेदन करने के बाद प्रारंभिक परीक्षा (prelims exam) उत्तीर्ण करना होगा.
  • उसके बाद मुख्य परीक्षा के लिए एप्लीकेशन करना होगा. और मुख्य परीक्षा अच्छे अंकों में उत्तीर्ण करना होगा.
  • अगर आप मुख्य परीक्षा (mains exam) उत्तीर्ण करते हैं, तो इंटरव्यू के लिए बुलाया जायेगा.
  • इंटरव्यू, एक पर्सनालिटी टेस्ट होता है, जिसे अच्छे अंकों में उत्तीर्ण करना होगा.
  • Interview क्लियर करने के बाद मुख्य परीक्षा और इंटरव्यू के अंकों के आधार पर मेरिट बनता है.
  • मेरिट के आधार पर IAS, IPS, IFS, IRS, IES आदि रैंक बनता है.
  • डीडीसी बनने के लिए IAS (भारतीय प्रशासनिक सेवा) रैंक आनी चाहिए.
  • अगर आप आईएएस रैंक प्राप्त करते हैं, तो भारतीय प्रशासनिक सेवा अधिकारी रैंक का पद मिलेगा.
  • आईएएस अधिकारी के तौर पर सबसे पहले एसडीओ, एसडीम पद पर नियुक्ति होगा.
  • चार-पांच वर्ष का कार्यानुभव के बाद प्रमोशन के द्वारा डीसी, डीडीसी पद मिलता है.

इसे भी पढ़ें- BDO Officer Kaise Bante Hai? 

Leave a Comment