IRS Officer Kaise Bane? IRS Officer ki Salary Kitni Hoti Hai? IRS ऑफिसर का काम

आज के समय में अधिकांश स्टूडेंट्स यूपीएससी सिविल सेवा की परीक्षा उत्तीर्ण करके, सिविल सेवा के क्षेत्र अपना करियर संवारना चाहते हैं. यूपीएससी सिविल सर्विस एग्जाम के द्वारा कई पदों पर भर्ती की जाती है. तो आज आप जानेंगे कि IRS Officer Kaise Bane? IRS Officer ki Salary Kitni Hoti Hai? आईआरएस ऑफिसर बनने के लिए क्या करें?

IRS Officer Kya Hota Hai?

आईआरएस ऑफिसर यानि भारतीय राजस्व सेवा अधिकारी (Indian Revenue Service Officer) होता है. IRS ऑफिसर को इनकम टैक्स ऑफिसर भी कहा जाता है. जो किसी क्षेत्र का आयकर/ राजस्व अधिकारी होता है. IRS ऑफिसर की नियुक्ति संघ लोक सेवा आयोग सिविल सेवा परीक्षा (UPSC CSE) के माध्यम से होती है.

IRS Officer Banne ke liye Kya Kare?

IRS यानि भारतीय राजस्व सेवा अधिकारी बनने के लिए सबसे पहले किसी मान्यता प्राप्त संस्थान से ग्रेजुएशन डिग्री उत्तीर्ण करें. किसी भी सब्जेक्ट में ग्रेजुएशन डिग्री प्राप्त करने के बाद संघ लोक सेवा आयोग सिविल सेवा परीक्षा (UPSC Civil Service Exam) के लिए आवेदन फॉर्म भरें. और यूपीएससी सिविल सर्विस एग्जाम उत्तीर्ण करें. क्योंकि सिविल सर्विस एग्जाम के द्वारा आईआरएस ऑफिसर की नियुक्ति होती है.

IRS Officer ke Liye Qualifcation

  • उम्मीदवार किसी मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय/ संस्थान से किसी भी सब्जेक्ट में स्नातक (Graduation) उत्तीर्ण होना चाहिए.
  • या उम्मीदवार ग्रेजुएशन के अंतिम सेमेस्टर में अध्ययनरत (Graduation Appearing) होना चाहिए.
  • BE/ B.Tech/ MBBS डिग्री धारक उम्मीदवार भी यूपीएससी सिविल सर्विस एग्जाम के लिए अप्लाई कर सकते हैं.
  • IRS ऑफिसर बनने के लिए न्यूनतम शैक्षणिक योग्यता ग्रेजुएशन डिग्री होनी अनिवार्य है.

IRS Officer ke Liye Yogyata

  • आवेदक भारत देश का नागरिक होना चाहिए.
  • उम्मीदवार के पास किसी मान्यता प्राप्त संस्थान से ग्रेजुएशन डिग्री उत्तीर्ण प्रमाण पत्र होना चाहिए.
  • या Graduation Appearing स्टूडेंट्स हो.
  • उम्मीदवार की न्यूनतम उम्र 21 वर्ष तथा अधिकतम उम्र अधिकतम उम्र 32 वर्ष होनी चाहिए.
  • अधिकतम उम्र सीमा में OBC वर्ग के उम्मीदवारों को 3 वर्ष की और SC/ ST कैंडिडेट्स को 5 वर्ष की छुट दी जाती है.

IRS Officer Kaise Bane?

  • IRS ऑफिसर बनने के लिए सबसे पहले किसी मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय से किसी भी सब्जेक्ट में स्नातक (Graduation) उत्तीर्ण करें.
  • उसके बाद UPSC Civil Service Exam देने के लिए यूपीएससी सिविल सर्विस एग्जाम Application Form भरें.
  • यूनियन पब्लिक सर्विस कमीशन (UPSC) सिविल सर्विस एग्जाम के लिए प्रति वर्ष notification जारी करती है.
  • जब यूपीएससी सिविल सर्विस प्रारंभिक परीक्षा ( Prelims Exam) के लिए एप्लीकेशन फॉर्म/डेट निकलता है, उस समय आवेदन करें.
  • prelims एग्जाम का एप्लीकेशन फॉर्म भरने के बाद तैयारी करें और एग्जाम क्लियर करें.
  • प्रारंभिक परीक्षा उत्तीर्ण करने के बाद जब मुख्य परीक्षा (मैंस एग्जाम) का एप्लीकेशन फॉर्म भरें.
  • और Mains Exam अच्छे अंकों में उत्तीर्ण करें, क्योंकि मैंस एग्जाम के अंकों के आधार पर मेरिट बनता है.
  • मुख्य परीक्षा उत्तीर्ण करने के बाद इंटरव्यू के लिए बुलाया जाता है.
  • इंटरव्यू की तैयारी करें और अच्छे अंकों में इंटरव्यू उत्तीर्ण करें.
  • साक्षात्कार की तैयारी के लिए mock Interview दें.
  • मैंस और इंटरव्यू के अंकों के आधार पर मेरिट/ रैंक बनती है.
  • रैंक के आधार पर आईआरएस पोस्ट मिलती है.

IRS Officer ki Salary Kitni Hoti Hai?

आईआरएस ऑफिसर की सैलरी 70,000-80,000 रूपये प्रतिमाह होती है. वेतन के अलावे महंगाई भत्ते, यात्रा भत्ते, आवास भत्ते आदि अन्य सुविधाएँ मिलती है.

IRS Officer ka Kam Kya Hota Hai?

  • आईआरएस ऑफिसर का मुख्य काम क्षेत्र में कर (Tax) लगाना और एकत्र करना होता है.
  • जानबूझ कर चोरी करने वालों पर करवाई करवाना और कर प्रशासक के रूप में चोरी की जाँच करना.
  • टैक्स/कर पॉलिसी तैयार करने की सलाह देना.
  • कर से संबंधित नियम और नीति तैयार करना.

IRS Officer Selection Process in Hindi

आईआरएस ऑफिसर यानि भारतीय राजस्व सेवा अधिकारी का सिलेक्शन UPSC Civil Service Exam के द्वारा होता है. यूपीएससी सिविल सर्विस एग्जाम तीन चरणों में होता है, Preliminary Exam (प्रारंभिक परीक्षा), Mains Exam (मुख्य परीक्षा) और Interview (साक्षात्कार).

प्रारंभिक परीक्षा (Preliminary Exam) 

यह सिविल सर्विस एग्जाम की प्रथम चरण की परीक्षा होती है. इसमें दो पेपर होते हैं, दोनों पेपर कुल 200-200 अंकों की होती है.  प्रत्येक पेपर के प्रश्नों को हल करने के लिए 2 घंटे का समय दिया जाता है. दोनों प्रश्न-पत्रों में वस्तुनिष्ठ प्रश्न (Objective Type Question) होते हैं.

  • पेपर-I: सामान्य योग्यता परीक्षा (General Ability Test):  इस प्रश्न-पत्र में सामान्य ज्ञान, करेंट अफेयर्स, सामान्य विज्ञान, पर्यावरण, भारत का इतिहास, भारतीय राजनितिक और शासन प्रणाली, और भूगोल विषयों से वैकल्पिक प्रश्न पूछे जाते हैं.
  • पेपर- II: सिविल सर्विस एप्टीटूट टेस्ट (Civil Service Aptitude Test): दुसरे प्रश्न पत्र में भी वैकल्पिक प्रश्न पूछे जाते है. इसमें सामान्य मानसिक योग्यता, समझ और तार्किक प्रश्न पूछे जाते हैं.

मुख्य परीक्षा (Mains Exam)

प्रारंभिक परीक्षा का परिणाम घोषित होने के बाद मुख्य परीक्षा होती है. जो अभ्यर्थी prelims Exam उत्तीर्ण करते हैं, उन्हें मुख्य परीक्षा में प्रवेश मिलता है. मुख्य परीक्षा में वर्णात्मक/ व्याख्यात्मक प्रश्न पूछे जाते हैं, जिसका उत्तर यथासंभव अपने शब्दों में लिखना होता है.

मुख्य परीक्षा में कुल 9 पेपर होते हैं. paper I & II क्वालीफाइंग पेपर होते हैं जिनका अंक मेरिट में नहीं जुड़ता है, जो 300-300 अंकों की होती है. और बाकी के 7 पेपर मेरिट के पेपर होते हैं, जो 250-250 अंकों की होती है, कुल मिलाकर 1750 अंकों की मैंस एग्जाम होती है. सभी पेपर में व्याख्यात्मक प्रश्न (Descriptive question) होते हैं. प्रत्येक पेपर को हल करने के लिए 3 घंटे का समय निर्धारित है.

मैंस एग्जाम का पेपर

  1. पेपर-I: भारतीय भाषा (Indian Language) Qualifying Paper
  2. पेपर-II: अंग्रेजी भाषा (English Language) Qualifying Paper
  3. Paper-III: निबंध (Essay)
  4. सामान्य अध्ययन पेपर-1 (General Knowledge)
  5. सामान्य अध्ययन पेपर-2 (General Knowledge)
  6. General Knowledge Paper-3
  7. General Knowledge paper-4
  8. वैकल्पिक विषय (Optional Paper)- 1
  9. वैकल्पिक विषय पेपर (Optional Paper)-2

साक्षात्कार (Interview)

यह यूपीएससी सिविल सर्विस एग्जाम की अंतिम चरण की परीक्षा है. मुख्य परीक्षा पास करने के बाद इंटरव्यू होता है. जो उम्मीदवार Mains Exam उत्तीर्ण करते हैं उन्हें Interview के लिए बुलाया जाता है. यह एक तरह का पर्सनालिटी टेस्ट होता है, जिसमें आपकी ज्ञान और व्यवहार की टेस्ट होती है.

इसे भी पढ़ें- Income Tax Inspector Kaise Bane?

Leave a Comment