UPTET ke Liye Qualification in Hindi: UPTET ka Exam Pattern (Paper I/ II)

उत्तर-प्रदेश (यूपी) सरकार राज्य के विद्यालयों में प्राथमिक व उच्च प्राथमिक शिक्षकों की बहाली हेतु शिक्षक पात्रता परीक्षा का आयोजन करती है, जिसे उत्तर-प्रदेश शिक्षक पात्रता परीक्षा यानि यूपीटीईटी (UPTET) के नाम से जाना जाता है. अब आपके मन में सवाल होगा कि UPTET ka Exam kaun de sakta Hai? तो आज आप जानेंगे UPTET ke Liye Yogyata क्या होना चाहिए? UPTET ke Liye Qualification in Hindi.

UPTET ka Full Form in Hindi

UPTET का फुल फॉर्म Uttar Pradesh Teacher Eligibility Test होता है. जिसे हिंदी में ‘उत्तर-प्रदेश शिक्षक पात्रता परीक्षा’ कहा जाता है.

UPTET Kya Hota Hai?

यूपीटीईटी यानि उत्तर प्रदेश टीचर एलिजिबिलिटी टेस्ट होता है. जिसे उत्तर-प्रदेश शिक्षक पात्रता परीक्षा के नाम से भी जाना जाता है. यूपी टेट का आयोजन उत्तर-प्रदेश बेसिक एजुकेशन बोर्ड (UPBEB) करती है. इस टेट एग्जाम के द्वारा उत्तर-प्रदेश सरकार राज्य के सरकारी स्कूलों में प्राथमिक एवं उच्च प्राथमिक शिक्षकों की बहाली करती है.

UPTET का पेपर कौन दे सकता है?

यूपीटीईटी का पेपर भारत के वैसे नागरिक या व्यक्ति दे सकते हैं, जिन्होंने किसी मान्यता प्राप्त संस्थान से टीचर ट्रेनिंग (शिक्षक प्रशिक्षण) कोर्स किया हो. किसी मान्यता प्राप्त संस्थान से D.El.Ed या B.Ed कोर्स करने वाले अभ्यर्थी यूपीटेट का पेपर या एग्जाम दे सकते हैं.

UPTET ke Liye Qualification

  • उम्मीदवार किसी मान्यता प्राप्त बोर्ड से बारहवीं कक्षा (10+2) उत्तीर्ण होना चाहिए.
  • किसी मान्यता प्राप्त यूनिवर्सिटी से 50% अंकों में ग्रेजुएशन उत्तीर्ण होना चाहिए.
  • उम्मीदवार किसी मान्यता प्राप्त संस्थान से शिक्षा में डिप्लोमा (D.Ed) या बैचलर ऑफ़ एजुकेशन (B.Ed) किया हो.
  •  यूपीटीईटी के लिए D.Ed/ B.Ed होना अनिवार्य है.
  • D.Ed/ B.Ed के अंतिम सेमेस्टर में अध्ययनरत कैंडिडेट भी UPTET के लिए आवेदन कर सकते हैं.

UPTET ke Liye Yogyata

  • आवेदक भारत/ नेपाल/ भूटान/ तिब्बत का नागरिक हो.
  • अभ्यर्थी किसी मान्यता प्राप्त संस्थान से D.Ed या B.Ed कोर्स किया हो.
  • या D.Ed/ B.Ed के Appearing (अंतिम सेमेस्टर) स्टूडेंट्स हो.
  • अभ्यर्थी की उम्र 18 से 35 वर्ष के बीच होनी चाहिए.
  • आरक्षित वर्ग (SC/ ST/ OBC) के अभ्यर्थियों को अधिकतम उम्र-सीमा में छुट दिया जाता है.

UPTET ka Exam Pattern

UTET दो पेपर में होता है (Paper I & II). पेपर I प्रथमिक स्तर शिक्षक (क्लास 1 से 5 तक) के लिए होता है. और पेपर II उच्च प्राथमिक स्तर शिक्षक (क्लास 6 से 8  तक) के लिए होता है. पेपर I और II दोनों 150 अंकों की होती है. दोनों पेपर में कुल प्रश्न 150 होता है और सभी प्रश्न ऑब्जेक्टिव टाइप के होते हैं. Negative Marking का प्रावधान नहीं होता है.

UPTET Paper I ka Exam Pattern

यूपीटीईटी paper I का प्रश्न-पत्र पांच खण्डों में होता है. प्रत्येक खंड में 30 वस्तुनिष्ठ प्रश्न होते हैं 30 अंकों की. कुल मिलाकर 150 अंकों का पेपर होता है.

Subject  (विषय) No. of Question (प्रश्नों की संख्या) Total Marks (कुल अंक)
Child Development & Pedagogy (बाल विकास एवं शिक्षाशास्त्र) 30 30
Language I (Hindi) 30 30
Language II (English/ Urdu/ Sanskrit) 30 30
Mathematics (गणित) 30 30
Environmental Studies (पर्यावरण अध्ययन) 30 30
Total (कुल) 150 150

 

UPTET Paper II ka Exam Pattern

पेपर II का प्रश्न पत्र 4 खण्डों में विभाजित होता है. खंड A, B, C में 30-30 प्रश्न होते हैं और खंड D में 60 प्रश्न होते हैं, कुल मिलाकर 150  प्रश्न होता है.

Subject (विषय) No. of Question (प्रश्नों की संख्या) Total Marks (कुल अंक)
Child Development & Pedagogy (बाल विकास एवं शिक्षाशास्त्र) 30 30
Language I (Hindi) 30 30
Language II (English/ Urdu/ Sanskrit) 30 30
Mathematics and Science (गणित और विज्ञान)

OR/

Social Science/Social Studies (सामाजिक विज्ञान/ सामाजिक अध्ययन)

60 60
Total (कुल) 150 150

 

UPTET Qualifying Marks Kitna Hai?

  • जनरल केटेगरी कैंडिडेट के लिए पासिंग मार्क्स/ क्वालीफाइंग मार्क्स 60% (90 marks) यानि 150 में से 90 अंक प्राप्त करने होंगे.
  • SC/ ST/ OBC कैंडिडेट्स की पासिंग मार्क्स/ Qualifying marks 55% है यानि 150 में से  83 अंक प्राप्त करने होंगे.

इसे भी पढ़ें:- CTET Paper I ka Syllabus Kya Hai?

Leave a Comment