NAREGA Mate Kaise Bane? नरेगा मेट के लिए योग्यता NAREGA Mate ka Vetan

नरेगा/मनरेगा योजना के तहत ग्रामीण क्षेत्रों के मजदूरों को प्रति वर्ष कुल एक सौ (100) दिनों की रोजगार प्रदान की जाती है. मजदूरों को काम के बदले न्यूनतम निर्धारित सरकारी मजदूरी मिलती है. नरेगा योजना के तहत होने वाले कार्य मजदूरों से करवाने हेतु एक मेट होता है, जिसे नरेगा मेट भी कहते हैं. मेट मजदूरों की प्रतिदिन की हजारी/ उपस्थिति दर्ज करती है और उस पंजी को रोजगार सेवक के पास जमा करती है. तो आज आप जानेंगे कि NAREGA Mate Kaise Bante Hai? NAREGA Mate ka Vetan Kitna Hota Hai?

नरेगा मेट क्या होता है?

नरेगा को मनरेगा (MANREGA) के नाम से भी जाना जाता है. महात्मा गाँधी राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार गारंटी अधिनियम (मनरेगा) योजना के तहत ग्रामीण क्षेत्र के मजदूरों को प्रति वर्ष 100 दिनों की रोजगार अपने गाँवों में ही दी जाती है. नरेगा योजना में मजदूरों के अलावे एक मेट भी होता है. जो मजदूरों की जॉब कार्ड जाँच करके, उन्हें काम पर लगाती है. और मजदूरी की उपस्थिति/ हाजरी दर्ज करती है. साधारण भाषा में कहे तो, नरेगा के कार्य को ग्रामीण स्तर पर करवाने वाले व्यक्ति नरेगा मेट होता है.

नरेगा मेट बनने के लिए क्या करें?

नरेगा मेट बनने के लिए सबसे पहले दसवीं पास करना होगा. उसके बाद अपने पंचायत सेवक/ रोजगार सेवक से नरेगा मेट का आवेदन फॉर्म प्राप्त करें और उस फॉर्म को भरकर पंचायत सेवक के कार्यालय में जमा करें. आवेदन करने के बाद अपने ग्रामीण क्षेत्र की 40 मजदूरों की सूची तैयार कीजिए और उन सभी मजदूरों का जॉब कार्ड जमा करें. मजदूरों का जॉब कार्ड होगा, तभी आप मेट बन पाएंगे. क्योंकि मेट बनने के बाद जॉब कार्ड धारक मजदूरों को ही काम पर  लगायेंगे.

NAREGA Mate ke Liye Qualification

  • उम्मीदवार कम से कम किसी मान्यता प्राप्त बोर्ड से दसवीं (10th) कक्षा उत्तीर्ण होना चाहिए.

नरेगा मेट के लिए योग्यता 

  • उम्मीदवार उस ग्रामीण क्षेत्र का निवासी हो, जिस गाँव में मेट बनना चाहता हो.
  • अभ्यर्थी के पास जॉब कार्ड (Job card) होना चाहिए.
  • और नरेगा मेट बनने के लिए कम से कम दसवीं उत्तीर्ण होना चाहिए.
  • उम्मीदवार किसी सरकारी लाभान्वित पद पर कार्यरत न हो.

NAREGA Mate ke Liye Document

  • 10th या 12th क्लास उत्तीर्ण प्रमाण पत्र
  • दसवीं या बारहवीं कक्षा का मार्कशीट
  • जॉब कार्ड
  • आधार कार्ड
  • पासपोर्ट साइज़ का फोटो
  • बैंक खाता (Account)

NAREGA Mate Kaise Bane?

  • नरेगा मेट बनने के लिए सबसे पहले तो, आप दसवीं कक्षा पास हो.
  • अगर आपके पास दसवीं पास का प्रमाण पत्र है, तो आप नरेगा मेट के लिए आवेदन कर सकते हैं.
  • नरेगा मेट के लिए आवेदन ऑफलाइन करना होगा.
  • आवेदन फॉर्म अपने ग्राम पंचायत सेवक/ सचिव से प्राप्त करें.
  • और उस फॉर्म को भरकर रोजगार सेवक/पंचायत सेवक के कार्यालय में जमा करें.
  • आवेदन फॉर्म जमा करने के बाद अपने क्षेत्र के कुल 40 मजदूरों की लिस्ट तैयार करें, जिनका जॉब कार्ड हो.
  • जॉब कार्ड धारक चालीस मजदूरों की सूची तैयार करने पर नरेगा मेट बन सकते हैं.
  • मजदूरों की सूची तैयार करने पर आप नरेगा मेट बनेंगे.

नरेगा मेट का कार्य

  • मेट का मुख्य कार्य मजदूरों को काम करवाना होता है, काम में मजदूरों को निर्देश देना और उनके कार्य को देखना.
  • मजदूरों की हाजरी/ उपस्थिति दर्ज करना.
  • मजदूरों की उपस्थिति की मास्टर रोल तैयार करना और मास्टर रोल पंचायत सेवक के पास जमा करना.
  • प्रति दिन मजदूरों के आने के बाद काम बांटना.
  • कार्य को पूरा करने हेतु पांच-पांच मजदूरों का समूह बनाना, और कार्य बांटना.
  • नरेगा मेट का काम मजदूरों की जॉब कार्ड जाँच करना और उन्हें काम पर लगाना.

नरेगा मेट का वेतन कितना होता है?

नरेगा मेट का वेतन सभी राज्यों में अलग-अलग होता है. कुछ राज्यों में 246 रूपये प्रतिदिन तो कुछ राज्यों में 303 रूपये प्रतिदिन का वेतन नरेगा मेट को दिया जाता है. मजदूरी से अधिक नरेगा मेट का वेतन होता है.

इसे भी पढ़ें:- ग्राम सचिव कैसे बने? ग्राम सचिव के कार्य 

 

Leave a Comment