TET ke Liye Qualification: TET की तैयारी कैसे करें? CTET के लिए योग्यता

आज के समय में अधिकांश स्टूडेंट्स का सपना सरकारी शिक्षक बनना होता है. जिसके लिए वे हाई स्कूल परीक्षा उत्तीर्ण करने के बाद से ही तैयारी करना शुरू कर देते हैं यानि शिक्षक बनने से सम्बंधित कोर्स करते हैं. एक सरकारी शिक्षक बनने के लिए शिक्षक पात्रता परीक्षा (TET) उत्तीर्ण करना होता है. अब आपके मन में सवाल होगा कि TET के लिए योग्यता क्या होनी चाहिए. तो आज आप जानेंगे TET ke Liye Qualification के बारे में.

TET ka Full Form in Hindi

TET का फुल फॉर्म Teacher Eligibility Test होता है. जिसे हिंदी में ‘शिक्षक पात्रता परीक्षा’ के नाम से जाना जाता है.

TET Kya Hota Hai?

TET का मतलब टीचर एलिजिबिलिटी टेस्ट होता है. यह शिक्षकों की बहाली हेतु लिया जाने वाला एक पात्रता मानदंड (Eligibility Criteria) परीक्षा है. भारत सरकार शिक्षा के क्षेत्र में सुधार हेतु, शिक्षकों की भर्ती करने के लिए टेट एग्जाम का आयोजन करती है.

राज्य एवं केंद्र सरकार अपनी-अपनी स्तर पर TET का आयोजन करती है. राज्य सरकार अपने राज्य स्तर में शिक्षकों की बहाली हेतु स्टेट लेवल पर टीईटी का आयोजन करती है. भारत की लगभग सभी राज्य सरकारें शिक्षकों की बहाली हेतु, अपने स्टेट लेवल पर टीईटी का आयोजन करती है. जबकि केंद्र सरकार केंद्रीय स्तर पर केंद्रीय विद्यालयों में शिक्षकों की बहाली हेतु सीटीईटी नाम से टीईटी का आयोजन करती है.

TET ke Liye Qualification in Hindi

  • उम्मीदवार किसी मान्यता प्राप्त बोर्ड से बारहवीं कक्षा (10+2) उत्तीर्ण हो.
  • किसी मान्यता प्राप्त संस्थान/ विश्वविद्यालय से किसी भी सब्जेक्ट में स्नातक उत्तीर्ण हो.
  • आवेदक किसी NCTE से मान्यता प्राप्त संस्थान से शिक्षक प्रशिक्षण कोर्स (Teacher Training) किया हो.
  • प्रारंभिक शिक्षा में डिप्लोमा (D.El.Ed) या शिक्षा में स्नातक/बैचलर ऑफ़ एजुकेशन (B.Ed) किया हो.
  • Paper I (class 1 to 5 टीचर) के प्रारंभिक शिक्षा में डिप्लोमा (D.El.Ed) उत्तीर्ण हो या डिप्लोमा पाठ्यक्रम के अंतिम वर्ष में हो.
  • Paper II (class 6 to 8 टीचर )के लिए बैचलर ऑफ़ एजुकेशन (B.Ed) उत्तीर्ण हो या बीएड पाठ्यक्रम के अंतिम वर्ष में हो.

TET ke Liye Yogyata

  • उम्मीदवार किसी मान्यता प्राप्त संस्थान से D.El.Ed या B.Ed उत्तीर्ण हो.
  • या D.El.Ed/ B.Ed पाठ्यक्रम के अंतिम सेमेस्टर में अध्ययनरत हो.
  • उम्मीदवार की न्यूनतम उम्र 18 वर्ष तथा अधिकतम उम्र 35 वर्ष होनी चाहिए.
  • आरक्षित वर्ग और महिला कैंडिडेट्स को अधिकतम उम्र-सीमा में 3-5 वर्ष का छुट दिया जाता है.

TET ka Exam Pattern

टीईटी एग्जाम कुल 150 अंकों की होती है. प्रश्न पत्र पांच खण्डों में विभाजित होता है. प्रत्येक खंड में 30 प्रश्न, कुल मिलाकर 150 प्रश्न होता है. सभी प्रश्न ऑब्जेक्टिव टाइप के होते है. प्रत्येक प्रश्न के लिए 1 अंक निर्धारित होता है. इसमें नेगेटिव मार्किंग नहीं होता है. Paper I और Paper II में अलग-अलग विषयों का प्रश्न होता है.

पेपर I (कक्षा 1 से 5 तक के शिक्षक) का सिलेबस

  1. बाल विकास एवं शिक्षाशास्त्र (Child Development and Pedagogy)
  2. भाषा -I: हिंदी/अंग्रेजी/ उर्दू (Language I: Hindi/ English/ Urdu)
  3. भाषा -II: क्षेत्रीय भाषा (Language-II: Regional Language)
  4. गणित (Mathematics)
  5.  पर्यावरण अध्ययन (Environmental Studies)

पेपर II (कक्षा 6 से 8 तक के शिक्षक) का सिलेबस

  1. बाल विकास एवं शिक्षाशास्त्र (Child Development and Pedagogy)
  2. भाषा-I: हिंदी / अंग्रेजी/ उर्दू (Hindi/ English/ Urdu)
  3. भाषा -II: क्षेत्रीय भाषा (Regional Language)
  4. गणित एवं विज्ञान (Mathematics & Science)
  5. सामाजिक विज्ञान (Social studies)

TET ki Taiyari Kaise Kare?

  • टीचर एलिजिबिलिटी टेस्ट (TET) की तैयारी करने से पहले टीईटी Exam Pattern और सिलेबस की जानकारी प्राप्त करें.
  • एग्जाम पैटर्न व सिलेबस को समझने के लिए पिछले वर्षों के प्रश्न-पत्रों को देखें.
  • Previous year question paper का बुक मिलती है question bank के नाम से उस किताब को खरीदकर, पिछले वर्षों के प्रश्नों को देखें.
  • इससे एग्जाम पैटर्न व सिलेबस की जानकारी होगी, जिससे तैयारी करने में सहायता मिलेगी.
  • पिछले वर्षों के प्रश्न-पत्रों से पता चलेगा कि किस विषय से कितने और किस तरह के प्रश्न आते हैं.
  • टीईटी की तैयारी के लिए Tet Exam Practice Book आती है, उसे खरीदकर पढाई कर सकते हैं.
  • सभी विषयों की अलग-अलग किताब खरीद कर पढाई करें.
  •  NCERT Books का अध्ययन करें. अगर आप पेपर I (1 to 5 class) की तैयारी कर रहे हैं, तो 1 से 5 क्लास तक की एनसीईआर टी किताबें पढ़ें.
  • और अगर Paper II (6 to 8 class) की तैयारी कर रहे हैं, तो कक्षा 6 से 8 तक की एनसीईआरटी किताबें पढ़ें.
  • प्रतिदिन एकटीईटी sample paper को हल करें.
  • हल करने के बाद देखे कौन-सा प्रश्न गलत है. जो प्रश्न गलत होता है, उसे समझकर हल करने का प्रयास करें.
  • समय-सारणी (Routine) बनाकर सभी विषयों की पढाई करें.
  • जिस विषयों में आप कमजोर हैं, उन विषयों पर अधिक ध्यान दें.

TET Preparation in Hindi

  • बाल-विकास एवं शिक्षाशास्त्र (CDP) की तैयारी के लिए बाल विकास की किताब खरीदकर, सभी मनोवैज्ञानिकों की थ्योरी का अध्ययन करें.
  • चाइल्ड डेवलपमेंट एंड पेडागोगी (CDP) की तैयारी के लिए D.El.Ed/ B.Ed की पुस्तक पढ़ें.
  • राष्ट्रीय पाठ्यचर्या रुपरेखा (NCF) 2005 का अध्ययन करें.
  • शिक्षा का अधिकार अधिनियम (RTE), 2009 का अध्ययन करें.
  • भाषा की तैयारी के लिए हिंदी व्याकरण और अग्रेजी ग्रामर का अध्ययन करें.
  • Self Study पर ध्यान दें.
  • टाइम मैनेजमेंट के लिए प्रतिदिन कुछ प्रश्नों को हल करें.
  • अगर आपको तैयारी करने में समस्या हो रही है, तो आप इंस्टिट्यूट का सहारा ले सकते हैं.
  • वर्त्तमान समय में बहुत सी Institute टेट एग्जाम की तैयारी करवाती है.
  • यदि आप गावं में रहते हैं और वहां इंस्टिट्यूट की व्यवस्था नहीं है. तो आप TET की तैयारी ऑनलाइन भी कर सकते हैं.
  • कई इंस्टिट्यूट Online Preparation कराती है.
  • इसके अलावे आप You tube के माध्यम से भी तैयारी कर सकते हैं.
  • यूट्यूब में कई ऐसे चैनल है, जो टेट की तैयारी करवाती है.

इसे भी पढ़ें- Super TET Kya Hai? Super TET ke Liye qualification

Leave a Comment