ANM ke Liye Qualification: ANM कैसे बनते हैं? Auxiliary Nursing Midwifery Salary

आप सभी एएनएम का नाम सुने होंगे. एएनएम बच्चों के टीकाकरण, कुपोषित बच्चों का जाँच और गर्भवर्ती महिलाओं की नियमित जाँच करती है. एएनएम बच्चों के टीकाकरण कार्य के लिए ग्रामीण क्षेत्र के स्वास्थ्य केंद्र और आंगनबाडी केन्द्रों में प्रतिमाह आती है. ग्रामीण क्षेत्र में स्थित स्वास्थ्य केन्द्र और आंगनबाडी केन्द्रों में एएनएम को देखकर, आपमें से काफी लोगों के मन में सवाल होगा कि ANM Kaise Bante Hai? एनएनएम बनने के लिए कौन-सा कोर्स करें? ANM ke Liye Qualification क्या होना चाहिए?

तो आज मैं आपसे इसी के बारे में बात करने जा रही हूँ कि ANM Kaise Bane? एएनएम नर्सिंग डिप्लोमा कोर्स है, यह केवल लड़कियों के लिए होता है. एएनएम कोर्स करके सरकारी या निजी अस्पातों में नर्स की जॉब प्राप्त कर सकते हैं. इसके अलावे ग्रामीण क्षेत्रों में स्थित स्वास्थ्य केंद्र में नर्स या एएनएम पोस्ट के लिए आवेदन कर सकते हैं. एएनएम कोर्स करने वाले अभ्यर्थियों को अधिकतर गावों  में टीकाकरण का काम मिलता है. सरकार सरकारी अस्पातलों और ग्रामीण क्षेत्र में स्थित सरकारी स्वास्थ्य केंद्र के संचालन के लिए एएनएम की वैकेंसी निकालती है. एएनएम कोर्स करने वाले अभ्यर्थियों इसके लिए आवेदन करके सरकारी नर्स बन सकते हैं.

अगर आप भी नर्सिंग के क्षेत्र में करियर बनाना चाहते हैं और जानना चाहते है कि ANM Course ke Liye Qualification क्या होना चाहिए? तो आप यह आर्टिकल अंत तक जरुर पढ़ें.

ANM ka Full Form Kya Hota Hai?

एएनएम का फुल फॉर्म Auxiliary Nurse Midwifery होता है. हिंदी में इसे ‘सहायक नर्स प्रसूति‘ कहा जाता है.

ANM Kya Hota Hai? 

एएनएम एक नर्सिंग डिप्लोमा कोर्स है. यह कोर्स 2 वर्ष की अवधि की होती है. इस कोर्स को करके सरकारी या निजी अस्पतालों में नर्सिंग का कार्य कर सकते हैं. यह कोर्स केवल महिलाओं (Female) के लिए होता है. इसके अंतर्गत ह्यूमन एनाटॉमी, बायोलॉजी, माइक्रोबायोलॉजी, बायोलॉजिकल साइंस, समाजशास्त्र, मनोविज्ञान, नर्सिंग आदि के बारे में जानकारी दी जाती है. एएनएम कोर्स करने वाले विद्यार्थियों को एएनएम नर्स कहा जाता है.

ANM ke Liye Qualification Kya Hona Chahiye? 

  • उम्मीदवार दसवीं कक्षा अच्छे अंकों में उत्तीर्ण हो.
  • और किसी मान्यता प्राप्त बोर्ड से किसी भी स्ट्रीम में बारहवीं कक्षा (12th) कम से कम 45% अंकों में उत्तीर्ण होना चाहिए.
  • अभ्यर्थी किसी मान्यता प्राप्त सरकारी या प्राइवेट कॉलेज से ANM Course किया होना चाहिए.

ANM Kaise Bante Hai? 

  • एएनएम बनने के लिए सबसे पहले आपको दसवीं कक्षा अच्छे अंकों में उत्तीर्ण करना होगा.
  • उसके बाद किसी भी स्ट्रीम (Science/ Commerce/ Arts) में बारहवीं कक्षा कम से कम 45% अंकों में उत्तीर्ण करना होगा.
  • 12वीं कक्षा पास करने के बाद किसी मान्यता प्राप्त सरकारी या निजी कॉलेज से ANM Course करना होगा.
  • सरकारी कॉलेज में एएनएम कोर्स में नामांकन लेने के लिए एंट्रेंस एग्जाम क्लियर करना होगा.
  • कुछ प्राइवेट कॉलेज बिना प्रवेश-परीक्षा लिए एडमिशन लेती है.
  • 2 वर्षीय डिप्लोमा कोर्स करने के बाद एएनएम के लिए आवेदन करना होगा.
  • सरकार समय-समय पर एएनएम की भर्ती के लिए Notification जारी करता है.
  • जब ANM ki Vacancy निकलती है, उस समय अप्लाई करना होगा.

ANM ki Salary Kitni Hoti Hai? 

सरकारी और प्राइवेट अस्पतालों में एएनएम की सैलरी भिन्न-भिन्न होती है. निजी अस्पतालों में एएनएम को वेतन के रूप में 10,000 रूपये से 15,000 रूपये प्रतिमाह तक दिया जाता है. वहीँ सरकारी एएनएम की सैलरी 25,000 रूपये से 30,000 रूपये प्रतिमाह होता है. एएनएम कोर्स करके नर्सिंग के क्षेत्र में करियर बनाकर अच्छा-खासा पैसा कमा सकते हैं.

एएनएम का काम क्या होता है?

  • ANM का मुख्य काम मरीज़ों की देखभाल और उनकी सेवा करना होता है.
  • रोगियों की देखभाल में डॉक्टर की मदद करना और डॉक्टर के निर्देशानुसार मरीजो को दवाई देना.
  • मरीजों के रिकार्ड्स को बनाए रखना.
  • इलाज में प्रयोग होने वाले उपकरणों का रखरखाव करना.

ANM Banne ke Liye Kya Kare?

तो, यही है ANM ke Liye Qualification. हमें आशा है कि आपको यह आर्टिकल ANM Kaise Bane? अच्छा लगा होगा. और अब आपको अच्छे से समझ में भी आ गया होगा कि एएनएम बनने के लिए शैक्षणिक योग्यता क्या होना चाहिए? ANM ki Salary Kitni Hoti Hai?

इससे संबंधित अगर आपके मन में किसी भी तरह का कोई भी सवाल हो, तो आप हमें निचे comment कर जरुर बताएं.

इसे भी पढ़ें: MBBS ke Liye Qualification

1 thought on “ANM ke Liye Qualification: ANM कैसे बनते हैं? Auxiliary Nursing Midwifery Salary”

Leave a Comment