Data Entry Operator ke Liye Yogyata, Qualification, डाटा एंट्री ऑपरेटर की सैलरी कितनी होती है?

अधिकतर स्टूडेंट्स डाटा एंट्री का काम करने में रूचि रखते हैं, क्योंकि डाटा एंट्री ऑपरेटर को काम के अनुसार सैलरी अच्छी मिलती है. इसके साथ ही वर्त्तामन समय में डाटा एंट्री ऑपरेटर की जॉब वैकेंसी भी बहुत अधिक निकलती है. लगभग हर कंपनी में डाटा एंट्री हेतु डाटा एंट्री ऑपरेटर होती है. अब आपके मन में सवाल होगा कि Data Entry Operator ke Liye Qualification क्या होना चाहिए? तो आज आप जानेंगे डाटा एंट्री ऑपरेटर के लिए योग्यता के बारे में.

डाटा एंट्री ऑपरेटर का काम क्या होता है?

किसी डाटा, सूचना (Data/ Information) या पेपरवर्क को कंप्यूटर सॉफ्टवेयर में लिखना या एंट्री करना, डाटा एंट्री ऑपरेटर का काम होता है. जो व्यक्ति कंप्यूटर सॉफ्टवेयर पर किसी जानकरी को लिखने, एंट्री करने का काम करता है या किसी Data को entry करता है, उसे डाटा एंट्री ऑपरेटर कहा जाता है. वर्त्तमान समय में लगभग सभी सरकारी एवं गैर-सरकारी संस्थानों में डाटा, सूचना को एकत्र करके सुरक्षित रखने हेतु, कंप्यूटर सॉफ्टवेयर में डाटा को एंट्री किया जाता है.

Data Entry Operator ke Liye Qualification

  • आवेदक किसी मान्यता प्राप्त बोर्ड से किसी भी स्ट्रीम में बारहवीं कक्षा (10+2) उत्तीर्ण हो.
  • किसी मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय/ संस्थान से किसी भी विषय में स्नातक डिग्री उत्तीर्ण हो.
  • और किसी मान्यता प्राप्त संस्थान से कंप्यूटर कोर्स या डाटा एंट्री ऑपरेटर कोर्स किया हो.
  • डाटा एंट्री ऑपरेटर के लिए Computer Course/Data Entry Operator कोर्स अनिवार्य है.

Data Entry Operator ke Liye Yogyata

  • उम्मीदवार किसी मान्यता प्राप्त बोर्ड से 12वीं पास हो.
  • किसी मान्यता प्राप्त संस्थान से स्नातक डिग्री किया हो.
  • और किसी मान्यता प्राप्त संस्थान से डिप्लोमा इन कंप्यूटर एप्लीकेशन/ Data Entry Operator Course किया हो.
  • अंग्रेजी और हिंदी भाषा का ज्ञान होना चाहिए.
  • हिंदी व अंग्रेजी Typing आनी चाहिए.
  • टाइपिंग स्पीड 35 शब्द प्रति मिनट या इससे अधिक होना चाहिए.
  • एमएस वर्ड, एक्सेल, Scanning, प्रिंटिंग और इन्टरनेट की जानकारी होनी चाहिए.
  • डाटा एंट्री ऑपरेटर के लिए हिंदी व अंग्रेजी टाइपिंग का ज्ञान अनिवार्य है.

डाटा एंट्री ऑपरेटर की सैलरी कितनी होती है?

डाटा एंट्री ऑपरेटर की सैलरी 10 हजार से 20  हजार रूपये प्रतिमाह होती है. सरकारी व निजी संस्थानों में डाटा एंट्री ऑपरेटर की सैलरी अलग-अलग होती है. कुछ प्राइवेट संस्थान इससे कम या अधिक भी वेतन देती है.

डाटा एंट्री ऑपरेटर कैसे बने?

  • डाटा एंट्री ऑपरेटर बनने के लिए सबसे पहले बारहवीं कक्षा उत्तीर्ण करें.
  • और किसी मान्यता प्राप्त संस्थान से ग्रेजुएशन करें, क्योंकि कुछ संस्थानों में डाटा एंट्री ऑपरेटर भर्ती की शैक्षणिक योग्यता स्नातक डिग्री होती है.
  • उसके बाद किसी मान्यता प्राप्त संस्थान से Computer course/ डाटा एंट्री ऑपरेटर कोर्स करें.
  • कंप्यूटर टाइपिंग सीखें और टाइपिंग स्पीड बढ़ाएं.
  • कंप्यूटर/ डाटा एंट्री ऑपरेटर कोर्स करने के बाद जब डाटा एंट्री ऑपरेटर की वैकेंसी निकलती है, उस समय अप्लाई करें.
  • समय -समय पर विभिन्न कम्पनियां/ संस्थान डाटा एंट्री ऑपरेटर की भर्ती हेतु सूचना जारी है.
  • आवेदन करने के बाद संस्थान अपनी चयन प्रक्रिया के माध्यम से आपकी स्किल्स  टेस्ट लेती हैं, उसके बाद जॉब देती है.

इसे भी पढ़ें:- Stenographer Kaise Bane?

Leave a Comment