Librarian Kaise Bante Hai? Librarian ke Liye Qualification, लाइब्रेरियन की सैलरी कितनी होती है?

आपने अपने स्कूल, कॉलेज लाइफ में पुस्तकें पढने हेतु कभी न कभी लाइब्रेरी गये ही होंगे, जहाँ आपने लाइब्रेरियन (पुस्तकालय अध्यक्ष) को देखा होगा. लाइब्रेरियन पाठकों को पुस्तकें उपलब्ध करवाते हैं और सबमिट करवाते हैं. इसके अलावे पुस्तकालय कक्ष का संरक्षण एवं रख-रखाव करते हैं. तो आज आप जानेंगे कि Librarian Kaise Bane? लाइब्रेरियन की सैलरी कितनी होती है?

Librarian Kya Hota Hai?

लाइब्रेरियन का मतलब ‘पुस्तकालयाध्यक्ष‘ होता है. यानि लाइब्रेरियन पुस्तकालय संचालक या अध्यक्ष (Library President) होता है. जो लाइब्रेरी/पुस्तकालय का रख-रखाव व संचालन करता है. लाइब्रेरियन पाठकों को उनकी पसंद की पुस्तकें उपलब्ध करवाते हैं और समय पर जमा करवाते हैं. पाठकों को पुस्तकें देते समय व जमा करवाते समय हस्ताक्षर करवाते हैं.

साधारण भाषा में कहा जाए तो लाइब्रेरियन किसी लाइब्रेरी का संचालक/अध्यक्ष या मालिक होता है. उनके हाथों में पूरी पुस्तकालय की जिम्मेदारी होती है. कुल कितनी पुस्तकें हैं, कितनी पुस्तकें पाठक के पास है और कौन-कौन सी पुस्तकें मंगवानी है आदि.

लाइब्रेरियन बनने के लिए क्या करना होता है?

लाइब्रेरियन या पुस्तकालयाध्यक्ष बनने के लिए Library Science में किसी मान्यता प्राप्त यूनिवर्सिटी/संस्थान से सर्टिफिकेट, डिप्लोमा, बैचलर या मास्टर डिग्री कोर्स करना होता है. लाइब्रेरी साइंस में डिप्लोमा, डिग्री या सर्टिफिकेट कोर्स करने के बाद जब लाइब्रेरियन की भर्ती निकलती हैं, उस समय अप्लाई करना होता है.

  • दसवीं कक्षा उतीर्ण करने के बाद लाइब्रेरी साइंस में सर्टिफिकेट कोर्स कर सकते हैं.
  • किसी भी स्ट्रीम में बारहवीं उत्तीर्ण करने के बाद लिब्ररय साइंस में Diploma कर सकते हैं.
  • मान्यता प्राप्त संस्थान से स्नातक डिग्री प्राप्त करने के बाद बैचलर डिग्री (बैचलर इन लाइब्रेरी साइंस) कर सकते हैं.
  • या ग्रेजुएशन डिग्री प्राप्त करने के बाद लाइब्रेरी साइंस में मास्टर डिग्री (Master of Library Science) कर सकते हैं.

Librarian ke Liye Qualification

  • किसी मान्यता प्राप्त बोर्ड से दसवीं कक्षा (10th) उत्तीर्ण हो.
  • 12वीं कक्षा किसी भी स्ट्रीम (कला/वाणिज्य/विज्ञान) में उत्तीर्ण हो.
  • उम्मीदवार किसी मान्यता प्राप्त संस्थान से लाइब्रेरी साइंस में Certificate course किया हो.
  • या किसी मान्यता प्राप्त संस्थान/विश्वविद्यालय से Diploma in Library Science या Bachelor in Library Science course कोर्स किया हो.
  • या किसी मान्यता प्राप्त संस्थान से लाइब्रेरी साइंस में मास्टर डिग्री (Masters of Library Science) किया हो.
  • लाइब्रेरियन के लिए लाइब्रेरी साइंस में सर्टिफिकेट/ डिप्लोमा/ बैचलर या मास्टर डिग्री अनिवार्य है.

लाइब्रेरियन कैसे बनते हैं?

  • लाइब्रेरियन बनने के लिए सबसे पहले किसी मान्यता प्राप्त बोर्ड से दसवीं कक्षा (10th) उत्तीर्ण करें.
  • दसवीं पास करने के बाद लाइब्रेरी साइंस में सर्टिफिकेट कोर्स करें या किसी मान्यता प्राप्त बोर्ड से बारहवीं कक्षा (12th) की पढाई करें.
  • बारहवीं कक्षा उत्तीर्ण करने के बाद  किसी मान्यता प्राप्त संस्थान से लाइब्रेरी साइंस में डिप्लोमा (Diploma in Library Science) करें.
  • या स्नातक (ग्रेजुएशन) डिग्री उत्तीर्ण करने के बाद किसी मान्यता प्राप्त संस्थान से लाइब्रेरी साइंस में बैचलर या मास्टर्स डिग्री करें.
  • Library Science में सर्टिफिकेट/ डिप्लोमा/बैचलर/ मास्टर्स डिग्री करने के बाद लाइब्रेरियन के लिए अप्लाई करना होगा.
  • समय-समय पर लाइब्रेरियन की रिक्ति पदों की भर्ती हेतु सूचना निकलती है.
  • जब Librarian ki Vacancy निकलती हैं, उस समय अप्लाई करना होगा.
  • आवेदन करने के बाद रिटेन टेस्ट इंटरव्यू और डॉक्यूमेंट वेरिफिकेशन होता है.
  • सभी टेस्ट क्लियर करने के बाद लाइब्रेरियन बनते हैं.

Librarian ki Salary Kitni Hoti Hai?

लाइब्रेरियन की सैलरी शुरूआत में 20,000 से 30,000 रूपये प्रतिमाह होती है. अनुभव होने के बाद वेतन में बढ़ोतरी होती है. जैसे-जैसे काम में experience होते हैं, वैसे-वैसे वेतन में बढ़ोतरी होता है. प्राइवेट संस्थानों और सरकारी संस्थानों में लाइब्रेरियन की सैलरी भिन्न-भिन्न होती है.

लाइब्रेरियन का काम क्या होता है?

  • लाइब्रेरी/ पुस्तकालय का रख-रखाव व संरक्षण करना लाइब्रेरियन का मुख्य काम होता है.
  • पुस्तकालयाध्यक्ष का काम पाठकों को उनकी पसंद की पुस्तकें उपलब्ध करवाना होता है.
  • पाठकों को पुस्तकें देते और उनसे वापस लेते (जमा करते) समय, उनका हस्ताक्षर लेना.
  • पढ़ने योग्य पुस्तकों (books) को संगठित करना, उसे डिजिटल लुक देना.
  • पाठक को नयी-नयी पुस्तकों के बारे में जानकारी देना और पुस्तकें उपलब्ध करवाना.
  • लाइब्रेरी में पाठकों को स्टडी करने की स्थान की व्यवस्था करवाना, क्योंकि अब लाइब्रेरी केवल पुस्तकालय नहीं रहा.
  • आजकल लाइब्रेरी अध्ययन केंद्र बन रहा है, जहाँ स्टूडेंट्स जाकर पुस्तकें लेते हैं और वहीँ बैठकर पढ़ते हैं.

Librarian ka Course

  • Certificate course in Library Science (after 10th pass)
  • Diploma in Library Science (after 12th pass)
  • Bachelor in Library Science (after Graduation)
  • Masters of Library Science (after Graduation)

इसे भी पढ़ें- Content Writer Kaise Bane? कंटेंट राइटर बनने के लिए क्या करें?

2 thoughts on “Librarian Kaise Bante Hai? Librarian ke Liye Qualification, लाइब्रेरियन की सैलरी कितनी होती है?”

Leave a Comment