सरकारी इंजीनियर कैसे बने? सरकारी इंजीनियर की सैलरी/ Government Engineer Selection Process in Hindi

आज के समय में इंजीनियर जॉब काफी लोकप्रिय हो गयी है. इसलिए अधिकांश स्टूडेंट्स बारहवीं कक्षा के बाद इंजीनियरिंग कोर्स करते हैं, ताकि उन्हें इंजीनियरिंग जॉब मिल सके. इंजीनियरिंग कोर्स करने के बाद किसी न किसी प्राइवेट कंपनी में जॉब मिल जाती है. लेकिन कई लोगों का सपना इंजीनियरिंग क्षेत्र में सरकारी नौकरी पाना होता है. तो आज आप जानेंगे कि Sarkari/Government Engineer Kaise Bane? सरकारी इंजीनियर की सैलरी कितनी होती है?

सरकारी इंजीनियर कैसे बने?

  • सरकारी इंजीनियर बनने के लिए सबसे किसी मान्यता प्राप्त बोर्ड से साइंस स्ट्रीम में बारहवीं कक्षा उत्तीर्ण करें.
  • 12वीं कक्षा पास करने के बाद इंजीनियरिंग कोर्स में एडमिशन के लिए एंट्रेंस एग्जाम के लिए आवेदन करें.
  • इंजीनियरिंग एंट्रेंस एग्जाम उत्तीर्ण करके इंजीनियरिंग के किसी भी ब्रांच (सिविल/ मैकेनिकल/ इलेक्ट्रिकल) में दाखिला लें.
  • और इंजीनियरिंग कोर्स की पढाई अच्छे से पूरी करें.
  • Engineering course पूरी होने के बाद सरकारी इंजीनियर के अप्लाई करना होगा.
  • समय-समय पर सरकारी विभाग के विभिन्न क्षेत्रों में इंजीनियर की रिक्ति पदों की भर्ती  हेतु job notification निकलती है.
  • जब Government Engineer ki Vacancy निकलती है, उस समय apply करना होगा.
  • आवेदन प्रक्रिया पूरी होने के बाद लिखित परीक्षा होती है.
  • लिखित परीक्षा उत्तीर्ण करने वाले अभ्यर्थियों का डॉक्यूमेंट वेरिफिकेशन होता है.
  • डॉक्यूमेंट वेरिफिकेशन के बाद सरकारी इंजीनियर के लिए सिलेक्शन होता है.

सरकारी इंजीनियर की सैलरी कितनी होती है?

सरकारी (Government) इंजीनियर की सैलरी 35,400 रूपये से 1,12,400 रूपये प्रतिमाह होती है. सिविल/मैकेनिकल/ इलेक्ट्रिकल सभी ब्रांच की इंजीनियर की सैलरी अलग-अलग होती है. समय-समय पर सरकारी इंजीनियर का वेतन बढ़ता रहता है.

Government/ Sarkari Engineer ke liye Qualification

  • उम्मीदवार किसी मान्यता प्राप्त बोर्ड से साइंस स्ट्रीम में 12th उत्तीर्ण होना चाहिए.
  • और किसी मान्यता प्राप्त यूनिवर्सिटी/ संस्थान से किसी भी ब्रांच (Civil/ Mechanical/ Electrical) में इंजीनियरिंग की डिप्लोमा या डिग्री कोर्स किया हो.
  • जिस पोस्ट के लिए आवेदन करना चाहते हैं, उससे सम्बंधित डिग्री होनी चाहिए.
  • जैसे अगर आप जूनियर सिविल इंजीनियर के अप्लाई करना चाहते हैं, तो आपके पास Civil Engineering Diploma सर्टिफिकेट होनी चाहिए.
  • और सीनियर सिविल इंजीनियर पोस्ट के लिए सिविल इंजीनियरिंग डिग्री (B.Tech) सर्टिफिकेट होनी चाहिए.
  • सरकारी इंजीनियर के लिए डिप्लोमा या डिग्री इंजीनियरिंग कोर्स अनिवार्य है.

Sarkari Engineer ke Liye Eligibility

  • उम्मीदवार के पास Diploma in Engineering या B.Tech (बैचलर इन टेक्नोलॉजी) डिग्री होनी चाहिए.
  • आवेदक की न्यूनतम उम्र 18 वर्ष तथा अधिकतम उम्र 35 वर्ष होनी चाहिए.

सरकारी इंजीनियर बनने के लिए क्या करें?

  • सरकारी इंजीनियर बनने के लिए सबसे पहले आप किसी मान्यता प्राप्त संस्थान से इंजीनियरिंग डिप्लोमा या डिग्री कोर्स करें.
  • इंजीनियरिंग डिप्लोमा या डिग्री कोर्स करने के बाद सरकारी इंजीनियर के लिए अप्लाई करें.
  • जब गवर्नमेंट सेक्टर में सरकारी इंजीनियर की भर्ती के लिए notification निकलती है, उस समय अप्लाई करना होगा.
  • अप्लाई करने के बाद Written Test होता है.
  • लिखित परीक्षा उत्तीर्ण करने के बाद डॉक्यूमेंट वेरिफिकेशन होता है.
  • दस्तावेज सत्यापन के बाद सरकारी इंजीनियर पोस्ट के लिए सिलेक्शन होता है.

Government Engineer Selection Process in Hindi

लिखित परीक्षा (written test) और डॉक्यूमेंट वेरिफिकेशन के द्वारा सरकारी इंजीनियर का सिलेक्शन होता है. सबसे पहले लिखित परीक्षा होती है. इस लिखित परीक्षा में उत्तीर्ण होने वाले उम्मीदवारों को दस्तावेज सत्यापन के लिए बुलाया जाता है. डॉक्यूमेंट वेरिफिकेशन में उम्मीदवार की शैक्षणिक प्रमाण पत्रों और अन्य जरुरी डाक्यूमेंट्स की जाँच होती है.

सरकारी इंजीनियर के लिए डाक्यूमेंट्स 

  • 10th उत्तीर्ण का सर्टिफिकेट
  • 12th उत्तीर्ण का सर्टिफिकेट
  • Engineering Course (डिप्लोमा/डिग्री) सर्टिफिकेट
  • पहचान-पत्र
  • आधार-कार्ड
  • स्थायी पता/ वर्त्तमान पता

इसे भी पढ़ें: सरकारी डॉक्टर कैसे बने? MBBS Doctor Kaise Bane?

Leave a Comment