UGC NET Syllabus in Hindi: NET Exam ka Syllabus, Exam Pattern

अगर आप असिस्टेंट प्रोफेसर/जूनियर रिसर्च फेलोशिप बनना चाहते हैं, तो एनटीए द्वारा आयोजित नेशनल एलिजिबिलिटी टेस्ट (UGC NET) क्लियर करना होगा. किसी भी एग्जाम को क्लियर करने के लिए परीक्षा से सम्बंधित सिलेबस, एग्जाम पैटर्न की जानकारी होनी चाहिए. तो आज हम जानेंगे NET Exam ka Syllabus aur Exam Pattern के बारे में. UGC NET Syllabus in Hindi. UGC NET Exam Patten in Hindi

NET Exam ka Syllabus aur Exam Pattern

  • एनटीए यानि नेशनल टेस्टिंग एजेंसी, यूजीसी-नेट एग्जाम, ऑनलाइन कंप्यूटर आधारित (CBT) आयोजित करती है.
  • UGC NET एग्जाम में दो पेपर होता है, Paper I, और paper II.
  • पेपर 1 में सामान्य प्रश्न होता है और पेपर 2 में चयनित विषय (optional subject) से सम्बंधित प्रश्न होता है.
  • दोनों पेपर का प्रश्न हल के लिए 3 घंटे का समय दिया जाता है.
  • पहला पेपर कुल 100 अंकों का और दूसरा पेपर कुल 200 अंकों का होता है.
  • दोनों पेपर के सभी प्रश्न बहुविकल्पीय (Multiple choice Question) होते हैं.
  • इस एग्जाम में Negative marking का प्रावधान नहीं होता है.

UGC NET Paper 1 Exam Pattern in Hindi

यूजीसी नेट एग्जाम का paper I सामान्य परीक्षा (General Test) है, जिसमें 10 यूनिट में प्रश्न होता है, प्रत्येक यूनिट से 5 प्रश्न पूछे जाते हैं. कुल 50 बहुविकल्पीय प्रश्न होता है, कुल 100 अंकों का. सभी प्रश्न बहुविकल्पीय होते हैं. पेपर I के लिए 60 मिनट का समय दिया जाता है. गलत उत्तर के लिए कोई negative marking का प्रावधान नहीं है.

UGC NET Paper 1 Exam Pattern (सामान्य परीक्षा)
Unit  (इकाई) Total Question (प्रश्नों की संख्या) Total Marks (कुल अंक) Time (कुल समय)
शिक्षण योग्यता (Teaching Aptitude) 5 10  60 minute (1 घंटा)
अनुसन्धान योग्यता (Research Aptitude) 5 10
 पठित गद्यांश (Comprehension) 5 10
संचार (Communication) 5 10
गणितीय तर्क और योग्यता (Mathematical Reasoning and Aptitude ) 5 10
तार्किक तर्क (Logical Reasoning) 5 10
डाटा इंटरप्रिटेशन (Data Interpretation) 5 10
सूचना एवं संचार प्रौद्योगिकी (ICT) 5 10
विकास और पर्यावरण (Development and Environmental) 5 10
उच्च शिक्षा संगठन और प्रणाली (Higher Education System) 5 10
Total (कुल) 50 100

 

UGC NET Paper 2 Exam Pattern in Hindi

पेपर 2 में आवेदक द्वारा चयनित विषय की परीक्षा होती है. UGC NET पेपर 2 में वैकल्पिक विषय (optional)/ चयनित विषय (Selected subject) का प्रश्न होता है. यूजीसी-नेट पेपर 2 में कुल 82 वैकल्पिक विषय है, जिनमें से किसी एक विषय का चयन करना होता है. जिस सब्जेक्ट का चयन करेंगे, उसी सब्जेक्ट से सम्बंधित प्रश्न पूछे जायेंगे. सभी प्रश्न बहुविकल्पीय (Multiple Choice Question) होते है. गलत उत्तर के लिए नेगेटिव मार्किंग का प्रावधान नहीं होता है.

UGC NET Paper 2 ka Exam Pattern 
subject (विषय) Total Question (कुल प्रश्न) Total Marks ( कुल अंक)  Time (परीक्षा का समय)
चयनित विषय (82 विषयों में से किसी एक विषय) 100 200 3 घंटा

 

नेट एग्जाम पेपर 2 का विषय

अर्थशास्त्र/ राजनीति विज्ञान/इतिहास/ भूगोल/ शिक्षण एवं अनुसन्धान सामान्य पेपर/ दर्शन/ मनोविज्ञान/ नागरिकशास्त्र/ मनुष्य जाति का विज्ञान/ कॉमर्स/ शिक्षा/ सामाजिक कार्य/ गृह विज्ञान/ रक्षा और सामरिक अध्ययन/ जनसँख्या अध्ययन/ सार्वजानिक प्रशासन/ संगीत/ प्रबंध/ हिंदी/अंग्रेजी/भाषा विज्ञान/ बंगाली/ मैथिली/कन्नड़/मलयालम/ पंजाबी/ उड़िया/ तमिल/ तेलुगु/ संस्कृत/ अरबी/ उर्दू/ फारसी/ चीनी/ डोगरी/नेपाली/ मणिपुरी/ असमिया/ गुजरती/ मराठी/ फ्रेंच/ स्पेनिश/ कंप्यूटर विज्ञान/ शारीरिक शिक्षा/ लोक साहित्य आदि.

NET Exam Syllabus in Hindi

यूजीसी-नेट एग्जाम paper 1 में सामान्य सब्जेक्ट का प्रश्न होता है और paper 2 में आवेदक द्वारा चयनित विषय का प्रश्न होता है. पेपर वन का प्रश्न-पत्र सभी उम्मीदवारों के लिए समान होता है. जबकि पेपर II का प्रश्न-पत्र सभी आवेदकों का अलग-अलग होता है, उम्मीदवार जिस विषय का चयन करते हैं, उस विषय से सम्बंधित प्रश्न-पत्र होता है, जिसमें उसी विषय से सम्बंधित प्रश्न पूछे जाते हैं.

UGC NET Paper I Syllabus In Hindi

शिक्षण योग्यता (Teaching Aptitude)
  • शिक्षण अवधारण- उद्देश, शिक्षण के स्तर, बुनियादी आवश्यकताएं
  • अधिगमकर्ता की विशेषताएँ- शैक्षिक, सामाजिक, भावनात्मक और संज्ञानात्मक
  • उच्च शिक्षण संस्थानों में शिक्षण के तरीकें- शिक्षक केन्द्रित, शिक्षार्थी केन्द्रित, ऑनलाइन, ऑफलाइन टीचिंग के तरीके
  • शिक्षण सहायता प्रणाली- पारंपरिक, आधुनिक और आईसीटी आधारित
  • मूल्यांकन प्रणाली- मूल्यांकन के तत्व और प्रकार, क्रेडिट प्रणाली में मूल्यांकन, कंप्यूटर आधारित परीक्षण, मूल्यांकन प्रणाली में नवाचार
अनुसन्धान योग्यता (Research Aptitude)
  • अनुसन्धान का अर्थ, प्रकार और विशेषताएँ
  • प्रत्यक्षवाद और शोध के बाद प्रत्यक्षवादी दृष्टिकोण
  • अनुसन्धान के तरीकें- प्रायोगिक, वर्णात्मक, ऐतिहासिक, गुणात्मक और मात्रात्मक तरीकें
  • अनुसन्धान के चरण
  • थीसिस और लेख लेखन- संदर्भित करने का प्रारूप और शैली
  • अनुसन्धान में ICT का अनुप्रयोग
  • अनुसन्धान नैतिकता

इसे भी पढ़ें- NET Exam ke Liye Qualification

पठित गद्यांश ( Comprehension)

एक गद्यांश दिया रहेगा और गद्यांश से सम्बंधित प्रश्न होगा.

संचार (Communication)
  • संचार का अर्थ, प्रकार और विशेषताएँ
  • प्रभावी संचार- मौखिक और गैर-मौखिक संचार, अंतर सांस्कृतिक और समूह संचार, कक्षा संचार
  • प्रभावी संचार की बाधाएं
  • मास-मीडिया और समाज
गणितीय तर्क और योग्यता (Mathematical Reasoning and Aptitude)
  • तर्क के प्रकार
  • संख्या श्रृंखला, पद श्रृंखला
  • कोड और सम्बन्ध
  • गणितीय योग्यता- अंश, समय और दुरी, अनुपात, अनुपात और प्रतिशत
  • लाभ और हानि
  • ब्याज और छुट, औसत आदि.
तार्किक तर्क (Logical Reasoning)
  • तर्कों की संरचना को समझना- तर्क के रूप, स्पष्ट प्रस्तावों की संरचना, मनोदशा और चित्र
  • औपचारिक और अनौपचारिक भ्रम, भाषा का उपयोग, शब्दों के अर्थ, विरोध का शास्त्रीय वर्ग
  • निगमनात्मक और आगमनात्मक तर्क का मूल्यांकन और भेद
  • उपमाएं ( analogies)
  • वेन आरेख (Ven Diagrams)
  • भारतीय तर्क (Indian Logic)- ज्ञान का मतलब
  • प्रमाण- प्रत्यक्ष, अनुमान, उपमान,
  • अनुमान की संरचना और प्रकार
डेटा इंटरप्रिटेशन ( Data Interpretation)
  • डेटा के स्रोत, अधिग्रहण और वर्गीकरण
  • मात्रात्मक और गुणात्मक डेटा
  • ग्राफिकल प्रतिनिधित्व (Graphical Representation)-पाई-चार्ट, बार-चार्ट, लाइन-चार्ट, टेबल-चार्ट, हिस्टोग्राम
  • डेटा मैपिंग
  • आंकड़ा निर्वचन
  • डेटा और शासन
सूचना एवं संचार प्रौद्योगिकी (ICT)
  • आईसीटी (ICT)-सामान्य संक्षेप और शब्दावली
  • इन्टरनेट का बुनियादी ज्ञान-इंट्रानेट, ई-मेल, ऑडियो और विडियो कांफ्रेंसिंग की मूल बातें
  • उच्च शिक्षा में डिजिटल पहल
  • सूचना एवं संचार प्रौद्योगिकी और शासन ( ICT and Governance)
विकास और पर्यावरण (Development and Environmental)
  • विकास और पर्यावरण- सतत विकास का लक्ष्य
  • मानव और पर्यावरण संपर्क- मानवजनित गतिविधियाँ और पर्यावरण पर उनके प्रभाव
  • पर्यावरणीय मुद्दे- स्थायी. क्षेत्रीय और वैश्विक
  • वायु प्रदुषण, जल प्रदुषण, मृदा प्रदुषण, ध्वनि प्रदुषण,
  • जलवायु परिवर्तन
  • मानव स्वास्थ्य पर प्रदूषकों के प्रभाव
  • प्राकृतिक और उर्जा संसाधन- सौर ऊर्जा, पवन ऊर्जा, भूतापीय ऊर्जा, बायोमास, मिट्टी, वन, हाइड्रो आदि.
  • प्राकृतिक आपदाएं और खतरे
  • पर्यावरण संरक्षण अधिनियम (1986)
  • जलवायु परिवर्तन पर राष्ट्रीय कार्य-योजना
  • अंतर्राष्ट्रीय समझौते- रियो शिखर सम्मलेन, जैव-विविधता पर सम्मलेन, क्योटो प्रोटोकॉल, पेरिस समझौता, अंतर्राष्ट्रीय सौर गठबंधन
उच्च शिक्षा संगठन और प्रणाली (Higher Education System)
  • प्राचीन भारत में उच्च शिक्षा और शिक्षण संस्थान
  • स्वतंत्रता के बाद भारत में उच्च शिक्षा और अनुसन्धान विकास
  • भारत में ओरिएंटल, पारंपरिक और गैर-पारंपरिक शिक्षण कार्यक्रम
  • व्यावसायिक, तकनीकी और कौशल आधारित शिक्षा
  • मूल्य शिक्षा और पर्यावरण शिक्षा
  • नीतियां, शासन और प्रशासन

इसे भी पढ़ें- RPF Constable Syllabus in Hindi

Leave a Comment