तहसीलदार कैसे बनें? Tahsildar ke Liye Qualification: Tahsildar ki Salary Kitni Hoti Hai?

नमस्कार दोस्तों! naukriejob.com में आपका स्वागत है. आज मैं आपसे Tahsildar Kaise Bane? के बारे में बात करने जा रही हूँ. वर्त्तमान समय में हर व्यक्ति की चाहत ‘सरकारी नौकरी‘ होती है. कुछ लोग डॉक्टर, इंजीनियर, टीचर, पुलिस बनना चाहते हैं, तो कुछ लोग किसी तहसील में तहसीलदार बनना चाहते हैं.

भारत देश में अनेक राज्य हैं, और प्रत्येक राज्यों में कई जिले होते हैं. एक जिले में अनेक तहसील होता है. प्रत्येक तहसील में एक तहसीलदार की नियुक्ति होती है. इनका पद बहुत ही प्रतिष्ठित होता है. राजस्व प्रशासन में प्रमुख अधिकारी होता है, इस कारण इनका मुख्य काम राजस्व संग्रहण होता है.

आपमें से काफी लोग तहसीलदार बनना चाहते होंगें, लेकिन आपको मालूम नहीं होगा कि तहसीलदार कैसे बनते हैं. इसके लिए पढाई कितनी करनी होगी और कौन -सा एग्जाम पास करना होगा. तहसीलदार के कार्य क्या है?

तो आज मैं आपको Tahsildar Kaise Bante Hai? के बारे में बताने जा रही हूँ. अगर आप भी तहसीलदार बनना चाहते हैं और यह जानना चाहते हैं कि Tahsildar ke Liye Qualification kya Hona Chahiye? तो आप यह आर्टिकल Tahsildar ki Salary Kitni Hoti Hai? अंत तक जरुर पढ़ें.

तहसीलदार क्या होता है?

दोस्तों, सबसे पहले हम बात करेंगे कि Tahsildar Kise Kahte Hai? किसी तहसील के प्रभारी अधिकारी को ‘तहसीलदार‘ कहा जाता है. कई राज्यों में इन्हें तालुकदार भी कहा जाता है. तहसीलदार राजस्व प्रशासन में प्रमुख अधिकारी होता है. इस कारण इन्हें ‘कर अधिकारी’ भी कहा जाता है.

सरकार द्वारा इन्हें एक तहसील मिलता है, जहाँ इन्हें राजस्व संग्रहण और पर्यवेक्षण जैसे कई सरकारी काम करने होते हैं. एक तहसीलदार के निचे कई सहायक अधिकारी होते हैं, इन्हें उप-तहसीलदार या नायब तहसीलदार कहा जाता है.

Tahsildar ke Liye Qualification Kya Hona Chahiye?

  • किसी मान्यता प्राप्त बोर्ड से बारहवीं कक्षा (12th) किसी भी स्ट्रीम में पास करना होगा.
  • उसके बाद किसी मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय से स्नातक (Graduation) करना होगा.
  • ग्रेजुएशन किसी भी सब्जेक्ट और किसी भी रैंक में पास करना होगा.
  • उम्मीदवार के पास ग्रेजुएशन डिग्री होना अनिवार्य है.

उम्र-सीमा:Tahsildar ke liye Yogyata

  • अभ्यर्थी की न्यूनतम उम्र 21 वर्ष तथा अधिकतम उम्र 40 वर्ष होनी चाहिए.
  • अधिकतम उम्र -सीमा में आरक्षित वर्ग (SC/ ST/ PWD) के उम्मीदवारों को छुट दिया जाता है.

Tahsildar Kaise Bane?

Tahsildar ke Liye Qualification Kya Hona Chahiye? ये जानने के बाद आप सोच रहे होंगे कि तहसीलदार कैसे बनते हैं?

  • तहसीलदार बनने के लिए सबसे पहले आपको 12th पास करना होगा.
  • उसके बाद किसी भी subject में ग्रेजुएशन पास करना होगा.
  • Graduation पास करने के बाद तहसीलदार भर्ती के लिए आवेदन करना होगा.
  • सभी राज्य सरकारें समय-समय पर Talsildar ki Bharti के लिए Notification जारी करती है.
  • जब Tahsildar Vacancy निकलता है, उस समय आवेदन करना होगा.
  • Application Form भरने के बाद एग्जाम क्लियर करना होगा.
  • राज्य के लोक सेवा आयोग तहसीलदार की भर्ती के लिए सिविल सर्विस एग्जाम आयोजित करती है.
  • State Public Service Commission तहसीलदार की भर्ती के लिए तीन चरणों में एग्जाम आयोजित करती है.
  • सबसे पहले Preliminary Exam होता है. यह लिखित परीक्षा होता है, इसमें ऑब्जेक्टिव प्रश्न होते हैं.
  • प्रारंभिक परीक्षा पास करने के बाद Mains Exam होता है. इसमें व्याख्यात्मक प्रश्न पूछे जाते हैं.
  • मुख्य परीक्षा पास करने वाले अभ्यर्थियों को साक्षात्कार के लिए बुलाया जाता है.
  • इंटरव्यू पास करने के बाद Merit बनता है. मेरिट के आधार पर तहसीलदार की नियुक्ति होती है.

इसे भी पढ़ें: Charted Accountant Kaise Bane? CA ke Liye Qualification 

वेतन: Tahsildar ki Salary Kitni Hoti Hai?

एक तहसील के तहसीलदार का वेतन अच्छा खासा होता है. तहसीलदार की सैलरी प्रतिमाह 56100 रूपये से 132000 रूपये होती है. इसके अलावे अन्य सुविधाएं मिलती है. पद और कार्य के अनुसार इनका वेतन अच्छा होता है.

चयन प्रक्रिया: Tahsildar ka Selection Kaise Hota Hai? 

तहसीलदार का चयन राज्य लोक सेवा आयोग सिविल सर्विस एग्जाम के माध्यम से होता है. लोक सेवा आयोग सिविल सेवा परीक्षा को तीन चरणों में आयोजित करती है. प्रारंभिक परीक्षा, मुख्य परीक्षा और इंटरव्यू.

प्रारंभिक परीक्षा (Prelims Exam): यह ऑफलाइन लिखित परीक्षा होता है, इसमें वस्तुनिष्ठ प्रश्न पूछे जाते हैं. इसमें दो पेपर होते हैं, दोनों पेपर में 200-200 अंकों का प्रश्न होता है. पेपर I में 150 प्रश्न होते हैं और पेपर II में कुल 100 प्रश्न होता है. दोनों पेपर में कुल 2-2 घंटे का समय निर्धारित होता है. इसमें Negative Marking का प्रावधान होता है.

मुख्य परीक्षा (Mains Exam): प्रारंभिक परीक्षा पास करने के बाद मुख्य परीक्षा होता है. इस परीक्षा में व्याख्यात्मक प्रश्न पूछे जाते हैं. यह एग्जाम प्रारंभिक परीक्षा से कठिन होता है. इसमें प्रारंभिक परीक्षा के सिलेबस का विस्तृत सिलेबस होता है.

साक्षात्कार (Interview): मुख्य परीक्षा के बाद साक्षात्कार होता है. जो उम्मीदवार मुख्य परीक्षा में सफल होते हैं, उन्हें इंटरव्यू के लिए बुलाया जाता है. इंटरव्यू के बाद मेरिट बनता है.

तहसीलदार के कार्य: Tahsildar ka Kya Kaam Hota Hai? 

  • भूमि से सम्बंधित विवाद सुनना तथा समस्या का निदान करना.
  • राजस्व का उचित संग्रह सुनिश्चित करना.
  • पटवारी द्वारा किये गए कार्यों का पर्यवेक्षण .
  • सुनिश्चित करना कि,भूमि अभिलेख अच्छे से रखा गया है.
  • छात्रों के लिए जाति प्रमाण पत्र, आवासीय प्रमाण पत्र, आय प्रमाण पत्र तथा अन्य प्रमाण पत्र तहसीलदार के हस्ताक्षर के द्वारा मान्य होता है.
  • किसी भी प्राकृतिक आपदा या बाधाओं से होने वाली हानि के लिए तत्काल राहत अभियान चलाना.

निष्कर्ष: Tahsildar Kaise Bane?

तो दोस्तों, यही है Tahsildar ke Liye Qualification. हमें आशा है कि आपको यह आर्टिकल Tahsildar Kaise Bane? अच्छा लगा होगा. और अब आपको अच्छे से पता भी चल गया होगा कि Tahsildar ke Liye Yogyata Kya Hona Chahiye? तहसीलदार कि सैलरी कितनी होती है?

इससे सम्बंधित अगर आपके मन में किसी भी तरह का कोई भी सवाल हो, तो आप हमें निचे comment कर जरुर बताएं. अगर आप इसी तरह के ओर भी Career Blogs in Hindi पढना चाहते हैं, तो आप हमें follow कर सकते हैं.

इसे भी पढ़ें: Lekhpal Kaise Bane? Lekhpal ke Liye Yogyata Kya Hona Chahiye? 

1 thought on “तहसीलदार कैसे बनें? Tahsildar ke Liye Qualification: Tahsildar ki Salary Kitni Hoti Hai?”

Leave a Comment